image

नॉटिंघम : बायें हाथ के चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी के बाद रोहित शर्मा के 18वें शतक की बदौलत भारत ने पहले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में आज यहां इंग्लैंड को आठ विकेट से रौंद दिया।
 इंग्लैंड के 269 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने रोहित की 114 गेंद में चार छक्कों और 15 चौकों से नाबाद 137 रन की पारी के अलावा कप्तान विराट कोहली 82 गेंद में 75 रन, सात चौके के साथ उनकी दूसरे विकेट की 167 रन की साङोदारी की बदौलत 9.5 ओवर शेष रहते दो विकेट पर 269 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की। रोहित ने शिखर धवर् 40 के साथ पहले विकेट के लिए 59 रन की साङोदारी भी की। 
 इससे पूर्व पहली बार पांच या इससे अधिक विकेट चटकाने वाले कुलदीर्प 25 रन पर छह विकेट इंग्लैंड की धरती पर छह विकेट हासिल करने वाले पहले स्पिनर बने जिससे मेजबान टीम अच्छी शुरुआत के बावजूद 49.5 ओवर 268 रन पर सिमट गई। 
 उमेश यादव ने 70 रन देकर दो जबकि युजवेंद्र चहल ने 51 रन देकर एक विकेट चटकाया। कुलदीप भारत के आठवें गेंदबाज हैं जिन्होंने एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में छह विकेट चटकाए।
 इंग्लैंड के लिए जोस बटर्ल 53 और बेन स्टोक्र्स 50 ने अर्धशतक जड़ने के अलावा पांचवें विकेट के लिए 93 रन की साङोदारी भी की। 
 श्रृंखला का दूसरा मैच 14 जुलाई को लंदन के लार्डस में खेला जाएगा।
लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारत को धवन और रोहित की जोड़ी ने तेज शुरुआत दिलाई। धवन ने शुरु से ही आव्रामक रवैया अपनाया। उन्होंने डेविड विली और मार्क वुड के ओवरों में तीन-तीन चौके मारे। 
 रोहित ने वुड पर छक्के के साथ सातवें ओवर में भारत का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया। धवन हालांकि अगले ओवर में मोईन अली की गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट पर आदिल राशिद को कैच दे बैठे। उन्होंने 27 गेंद की पारी में आठ चौके मारे।
 कोहली ने वुड पर चौके से खाता खोला जबकि इसी ओवर में रोहित ने भी दो चौके मारे। भारत के रनों का सैकड़ा 15वें ओवर में पूरा हुआ।
 कोहली ने इस बीच लियाम प्लंकेट और स्टोक्स पर चौके जड़े। रोहित ने स्टोक्स पर चौके के साथ 54 गेंद में अर्धशतक पूरा किया।
 कोहली ने वुड पर चौके के साथ 55 गेंद में 50 रन के आंकड़े को छुआ। रोहित ने वुड के इस ओवर में दो चौके और मारे। 
 रोहित ने मोईन की लगातार गेंदों पर छक्का और चौका मारा लेकिन 92 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब प्लंकेट की गेंद पर प्वाइंट पर राय ने उनका मुश्किल कैच टपका दिया।
 रोहित ने आदिल राशिद पर छक्के के साथ 82 गेंद में शतक पूरा किया।
 कोहली हालांकि इसके बाद राशिद की गेंद को आगे बढ़कर खेलने की कोशिश में चूक गए और बटलर ने उन्हें स्टंप कर दिया।
 भारत को इस समय 17 ओवर में जीत के लिए 43 रन की दरकार थी और रोहित ने लोकेश राहुर्ल नाबाद 09ी के साथ मिलकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचा दिया।
 इससे पहले कोहली ने टास जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया लेकिन जेसन रार्य 38ी और जानी बेयरस्टर्ा 38ी की सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 10.2 ओवर में 73 रन जोड़कर इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दिलाई।
 उमेश की मैच की पहली गेंद राय के बल्ले का किनारा लेकर स्लिप से चार रन के लिए चली गई। इसी ओवर की अंतिम गेंद में बेयरस्टा भाग्यशाली रहे जब उनके खिलाफ पगबाधा की विश्वसनीय अपील हुई लेकिन अंपायर ने उन्हें आउट नहीं दिया।
 बेयरस्टा ने पदार्पण कर रहे सिद्धार्थ कौल पर चौके से खाता खोला और फिर उमेश पर भी लगातार दो चौके मारे। उन्होंने कौल पर छक्के के साथ आठवें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।
 इंग्लैंड की मजबूत होती साङोदारी के बीच कोहली ने गेंद कुलदीप को थमाई और उन्होंने कप्तान को निराश नहीं करते हुए दूसरी ही गेंद की राय को कवर में उमेश के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 35 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे।
 कुलदीप ने अपने अगले ओवर की पहली गेंद पर जो रुर्ट 03 को पगबाधा किया जबकि इसी ओवर में बेयरस्टा को भी पवेलियन भेजा। बेयरस्टा के खिलाफ उनकी पगबाधा की विश्वसनीय अपील अंपायर ने ठुकरा दी थी लेकिन डीआरएस का सहारा लेने पर फैसला गेंदबाज के पक्ष में गया। बेयरस्टा ने 35 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके और एक छक्का मारा।
 इंग्लैंड ने नौ रन के भीतर तीन विकेट गंवाए जिससे उसका स्कोर बिना विकेट खोए 73 रन से तीन विकेट पर 82 रन हो गया।
 इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गर्न 19 भी इसके बाद चहल की गेंद को मिडविकेट पर सुरेश रैना के हाथों में खेल गए।
 बेहतरीन फार्म में चल रहे बटलर और स्टोक्स ने इसके बाद पारी को संवारा। बटलर शुरु से ही शानदार लय में दिखे जबकि स्टोक्स पूरी पारी के दौरान जूझते रहे। दोनों ने टीम का स्कोर 200 रन के करीब पहुंचाया।
 बटलर ने पंड्या की गेंद पर एक रन के साथ 45 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। 
 कोहली ने एक बार फिर साङोदारी तोड़ने की जिम्मेदारी कुलदीप को सौंपी और इस बार भी उन्होंने अपने नये स्पैल के पहले ओवर की अंतिम गेंद पर बटलर को विकटकीपर महेंद्र सिंह धोनी के हाथों कैच करा दिया। बटलर ने 51 गेंद का सामना करते हुए पांच चौके जड़े।
 स्टोक्स ने कौल की गेंद पर एक रन के साथ 102 गेंद में अर्धशतक पूरा किया लेकिन कुलदीप के अगले ओवर में कौल ने बैकवर्ड प्वाइंट पर उनका शानदार कैच लपका। स्टोक्स ने 103 गेंद की पारी में दो चौके मारे। कुलदीप ने अपने कोटे की अंतिम गेंद पर डेविड विलर्ी 01ी को लोकेश राहुल के हाथों कैच कराके छठा विकेट हासिल किया।
 इंग्लैंड की टीम अंतिम 22 ओवर में 115 रन ही बना सकी जबकि इस दौरान सिर्फ छह चौके और दो छक्के लगे। निचले व्रम में आदिल राशिद  22 और मोईन अली 24 ने टीम का स्कोर 250 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।
 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: kuldeep and rohit pick out the smell of the british india in first odi

free stats