image

यदि कहा जाए कि व्यक्ति के जीवन में सभी तरह के उतार-चढ़ाव भाग्य या किस्मत के भरोसे ही होते है तो गलत नहीं होगा। हर व्यक्ति यह जानने के लिए उत्सुक रहता है कि उनकी किस्मत में क्या लिखा हुआ है और उनके जीवन में अच्छा समय कब दस्तक देगा। इस बारे में एक बहुत प्राचीन ग्रंथ भृगु संहिता के बताया गया है। इसमे लिखी गई सभी जानकारियाँ ज्योतिषी से संबंधित है। इस भृगु संहिता में व्यक्ति के कुंडली लग्न के अनुसार यह बताया गया है कि किस व्यक्ति का भाग्य कब उदय होगा। इसमे कुंडली का प्रथम भाव जिस राशि का होता है, कुंडली भी उसी लग्न की मानी जाती है।

तुला लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में तुला लग्न होता है उनका भाग्योदय 24 वर्ष, 25 वर्ष, 32 वर्ष, 33 वर्ष व 35 वर्ष की आयु में हो सकता है।

वृश्चिक लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में वृश्चिक लग्न होता है उनका भाग्योदय 22 वर्ष, 24 वर्ष, 28 वर्ष व 32 वर्ष की आयु में हो सकता है।

मिथुन लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में मिथुन लग्न होता है उनका भाग्योदय 22 वर्ष, 32 वर्ष, 35 वर्ष, 36 वर्ष व 42 वर्ष की आयु में हो सकता है।

मेष लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में मेष लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 28 वर्ष, 32 वर्ष व 36 वर्ष की आयु में हो सकता है।

वृष लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में वृष लग्न होता है उनका भाग्योदय 25 वर्ष, 28 वर्ष, 36 वर्ष व 42 वर्ष की आयु में हो सकता है।

धनु लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में धनु लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष या 32 वर्ष की आयु में हो सकता है।

कर्क लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में कर्क लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 24 वर्ष, 25 वर्ष, 28 वर्ष व 32 वर्ष की आयु में हो सकता है।

सिंह लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में सिंह लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 24 वर्ष, 26 वर्ष, 28 वर्ष व 32 वर्ष की आयु में हो सकता है।

कन्या लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में कन्या लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 25 वर्ष, 32 वर्ष, 33 वर्ष, 35 वर्ष व 36 वर्ष की आयु में हो सकता है।

कुंभ लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में कुंभ लग्न होता है उनका भाग्योदय 25 वर्ष, 28 वर्ष, 36 वर्ष या 42 वर्ष की आयु में हो सकता है।

मीन लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में मीन लग्न होता है उनका भाग्योदय 16 वर्ष, 22 वर्ष, 28 वर्ष या 33 वर्ष की आयु में हो सकता है।

मकर लग्न कुंडली - जिस व्यक्ति की कुंडली में मकर लग्न होता है उनका भाग्योदय 25 वर्ष, 33 वर्ष, 35 वर्ष या 36 वर्ष की आयु में हो सकता है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Know by your horoscope in which age your fate will shine

free stats