image

ब्रिस्बेन : ब्रिस्बेन इंटरनेशनल टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में केई निशिकोरी ने जर्मी चार्डी को 6-2, 6-2 से हरा दिया। जापान के 29 साल के इस खिलाड़ी ने फ्रांस के अपने प्रतिद्वंद्वी को कोई मौका नहीं दिया और 66 मिनट चले मैच को जीतकर तीन साल में दूसरी पर इस टूर्नामेंट के फाइनल में जगह पक्की की। रविवार को खेल जाने वाले फाइनल में उनका सामना चौथी वरियता प्राप्त रूस के दानिल मेदवेदेव और फ्रांस के जो विल्प्रेड सोंगा के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा। महिलाओं के सेमीफाइनल में हालांकि जापान की नाओमी ओसाका को हार का सामना करना पड़ा।

READ NEWS : हैरिस ने बताया आस्ट्रेलिया की क्यों बढ़ी परेशानी, निचले क्रम को करना होगा ये काम

अमेरिकी ओपन की मौजूदा चैम्पियन नाओमी ओसाका को 65 मिनट चले मुकाबले में लेसिया त्सुरेंको ने 6-2, 6-4 से शिकस्त दी। इस जीत से यूक्रेन की 29 साल की लेसिया अपने करियर की सर्वश्रेष्ठ 24वीं रैंकिंग पर पहुंच जाएंगी। फाइनल में उनका सामना पांचवी वरियता प्राप्त कैरोलिना प्लिस्कोवा और डोना वेकिच के बीच होने वाले सेमीफाइनल की विजेता से होगा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Kei Nishikori reached the finals of Brisbane International

More News From sports

free stats