image

जींदः पिछले करीब डेढ दशक से सत्ता का बनवास भोग रही हरियाणा की मुख्य विपक्षी दल इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) का एसवाईएल के मुद्दे पर आज प्रदेशव्यापी बंद का कोई व्यापक असर दिखाई नहीं दिया।

राज्य में सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किये गये। इनेलो -बसपा का हरियाणा बंद अपने गढ़ सिरसा तक सिमट कर रह गया। प्रदेश के अन्य जिलों विशेषकर उत्तरी व दक्षिणी हरियाणा में बंद का कोई खास नहीं पड़ा। ग्रांउड जीरो की वास्तविक स्थिति के उलट इनेलो नेताओं ने बंद को सफल करार दिया है। प्रदेश के ज्यादातर जिलों में इनेलो नेता बाजारों में पहुंचे तो लोगों ने अपनी दुकानें बंद कर दी और उनके जाते ही खोल लिया। 

इससे पहले इनेलो पंजाब में एसवाईएल की खुदाई तथा इसी मुद्दे पर हरियाणा में वाहनों के प्रवेश को रोक चुकी है। एसवाईएल के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा हरियाणा के हक में फैसले दिए जाने के बाद इनेलो का इसी मुद्दे पर यह तीसरा राज्यव्यापी बंद था जिसे जनसमर्थन नहीं मिला। हरियाणा के विभिन्न जिलों से मिली रिपोर्ट के अनुसार जिन जिलों में दुकानदारों ने बंद भी किया वहां इसका असर केवल घंटा भर तक भी नहीं रहा। बंद के दौरान सिरसा में जहां 90 फीसदी मार्केट बंद रही वहीं निकटवर्ती जिला फतेहाबाद में इसका कोई खास असर दिखाई नहीं दिया।

इनेलो विधायक बलवान सिंह दौलतपुरिया खुद फतेहाबाद के बाजारों में दुकानें बंद करवाने के लिए मौजूद रहे लेकिन उनके पलटते ही दुकानदारों ने फिर से दुकानें खोल ली। उधर हिसार में भी बंद का असर सुबह करीब 10 बजे तक ही रहा उसके बाद मार्केट की गतिविधियां सामान्य की तरह चली।

साइबर सिटी गुरुग्राम में पुराने बाजार के कुछ हिस्से को छोडकर बंद का कहीं कोई असर नहीं दिखाई दिया। उधर मुख्य मार्ग पर स्थित जिला सोनीपत में आज सुबह सामान्य की भांति बाजार खुले रहे। पानीपत जिला में बंद का असर सुबह करीब 11 बजे तक रहा लेकिन उसके बाद जैसे ही इनेलो नेता दूसरी मार्केट की तरफ गए तो लोगों ने दुकानें खोल ली और इसके बाद बाजार बंद नहीं हुए।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के गृह जिला करनाल में भी बंद का असर नहीं दिखाई दिया। यहां कुछेक क्षेत्रों में दुकानदारों ने महज आधा घंटा दुकानें बंद की उसके बाद हालात सामान्य हो गए। कुरुक्षेत्र इनेलो प्रदेशाध्यक्ष अशोक अरोड़ा का गृहक्षेत्र है। 

यहां कुछ हिस्सों में बंद का पूर्ण असर दिखाई दिया। अंबाला में भी बंद का कोई खास असर दिखाई नहीं दिया। अंबाला छावनी क्षेत्र का दौरा करने पर देखा गया कि यहां की सदर बाजार, निक्लसन रोड़ मार्केट सामान्य दिनों की तरह खुली रही। कुल मिलाकर इनेलो को दावे के अनुसार बंद के दौरान जनसमर्थन नहीं भिवानी में भी बंद का कोई असर नही रहा मिला।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: INLD ceased on Sirhal to Sirsa on Syl

Advertisement
free stats