Advertisement
image

लखनऊः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बढ़ती जनसंख्या के खतरे से लोगों को आगाह करते हुए उसके नियंत्रण पर बल दिया। मुख्यमंत्री बुधवार को यहां अपने सरकारी आवास पर विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर ‘जागरुकता रैली’ को झण्डी दिखाकर रवाना करने के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने जनसंख्या स्थिरता पखवारा का शुभारम्भ भी किया।

उन्होंने अपने सम्बोधन में कहा कि जनसंख्या वृद्धि जैसे महत्वपूर्ण विषय पर जनसामान्य को जागरुक किया जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि बढ़ती जनसंख्या के कारण ही समाज में एक असंतुलन आ गया है। इस असंतुलन को समाप्त करने के लिए समाज के सभी वर्गों की सहभागिता जरुरी है।

योगी ने कहा कि आम लोगों को बेहतर शिक्षा, चिकित्सा, शुद्ध पेयजल, स्वच्छ वातावरण, अच्छी सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं मिल सके इसके लिए जनसंख्या नियंत्रण जरुरी है। कुपोषण मुक्त समाज की स्थापना के लिए आवश्यक है कि जागरुकता कार्यक्रम को जन-जन तक पहुंचाने के लिए गोष्ठियों का आयोजन किया जाए। 

उन्होंने कहा कि हमारे देश की जनसंख्या तेजी से बढ़ रही है और हर साल एक नया आस्ट्रेलिया बन रहा है। उन्होंने कहा कि जनसंख्या नियंत्रण के लिए लोगों को जागरुक करने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि अगर 2023-24 तक बढ़ती हुई जनसंख्या पर रोक नहीं लगी तो देश में खाद्य संकट पैदा हो सकता है।

पंजाब और देश - विदेश से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक। Youtube

Web Title: indias population is increasing rapidly every year a new australia yogi


advertisement
free stats Web Analytics