image

जालंधर (रोहित सिद्धू) : हमारे घरों और आसपास आम पाया जाने वाला छोटा सा मच्छर कितना जानलेवा है। सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि इसके काटने से देश में हजारों बेशकीमती जानें जा रही हैं। डेंगू और मलेरिया का मच्छर भी बहुत खतरनाक है। इसे समय पर पनपने से रोका न जाए तो ये कई लोगों को बीमारी का शिकार बना सकता है। डेंगू का मच्छर ही एक ऐसा मच्छर है, जिसका लारवा एक चम्मच में भी पैदा हो सकता है। लोग घरों में पानी भर कर पंछियों के लिए रखकर भूल जाते हैं। कूलरों में एक बार पानी भर लिया तो कई दिनों तक पानी को बदलते नहीं। पिछले कुछ साल के आंकड़े डेंगू के खतरनाक रूप को दिखाते हैं। कैसे सैकड़ों लोग डेंगू की बीमारी के कारण मारे गए और हजारों लोग इसके शिकार होकर अस्पतालों में इलाज करवाते रहे।

- पंजाब सरकार के आंकड़ों के अनुसार पिछले साल 2016 में 3100 डेंगू के पॉजिटिव केस सामने आए और डेंगू से 28 लोगों की मौत हुई थी।

- साल 2015 में तो पूरे पंजाब से 14149 डेंगू पॉजिटिव केस मिले। कई लोगों की मौत हुई। इस साल भी डेंगू, चिकनगुनिया और मलेरिया के केसों में तेजी से बढ़ौतरी होने की संभावना बनी हुई है।

- सेहत विभाग और पंजाब सरकार ने मिलकर अब डेंगू के मच्छर पर काबू पाने के लिए योजना बनाई है। सरकार लगातार जनता को जागरूक कर रही है। लोगों के घरों से लारवा ढूंढ कर नष्ट किया जा रहा है।

- जिला एपिडेमोलॉजिस्ट डा. सतीश कुमार कहते हैं कि डेंगू के मच्छर बरसात के दिनों में तेजी से एक्टिव होते हैं। क्योंकि इन दिनों में बरसात का पानी कहीं न कहीं जमा हो जाता है।

- लोग छतों पर रखे सामान की जांच नहीं करते हैं जिसकी वजह से पानी कुछ दिन जमा रहने से मच्छर का लारवा पैदा हो जाता है, जो मच्छर बन जाता है।

- लोगों को खुद ही बरसात के दिनों में अपने घरों की छतों की जांच करनी चाहिए। ऐसे किसी भी चीज में पानी नहीं रुकने देना चाहिए, जहां मच्छर पैदा हो सकें।

- घरों में मच्छर भगाने वाली दवाइयों का छिड़काव किया जाए और मॉस्किटो कोइल व मॉस्किटो रैपलैंट उपकरण का इस्तेमाल किया जाए। ताकि मच्छरों से बचाव किया जा सके।

- बच्चों को घर से निकलते समय पूरी बाजू के कपड़े पहनाएं। इन दिनों में निक्कर भी न पहन कर बाहर जाने दें और मच्छरों से बचाव का कोई उपयोग जरूर करें।

- रात को सोते समय बच्चों और बुजुर्गों को मच्छरदानी का इस्तेमाल करना चाहिए।

- सोने से पहले घर के सभी खिड़की-दरवाजे अच्छी तरह से बंद करके सोएं, ताकि मच्छर अंदर न आ सकें।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Dengue larva can also be present in a spoon, learn how to protect

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats