image

गुरदासपुर/बटाला/चंडीगढ़: पंजाब के सांसदों ने आज पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष व सांसद सुनील जाखड़ के नेतृत्व में संसद भवन के बाहर रोष प्रदर्शन कर केंद्र सरकार से पंजाब से संबंधित एस.सी. विद्यार्थियों के वजीफे की रोकी 1287 करोड़ रुपए की रकम तुरंत जारी करने की मांग की। उनके साथ सांसद संतोख चौधरी, रवनीत सिंह बिट्टू, गुरजीत सिंह औजला भी उपस्थित थे।

48MP रियर कैमरे के साथ Honor ने लॉन्च किया नया स्मार्टफोन , जानें कीमत और फीचर्स

इस अवसर पर बातचीत करते हुए जाखड़ ने कहा कि कांग्रेस पार्टी का मानना है कि शिक्षा के प्रसार के साथ ही एस.सी. वर्ग की आर्थिक व सामाजिक तरक्की संभव है लेकिन पहले पंजाब में अकाली-भाजपा सरकार ने पोस्ट मैट्रिक स्कॉलरशिप योजना का लाभ योग्य बच्चों तक नहीं पहुंचने दिया व अब केंद्र की मोदी सरकार ने अपने अनुसूचित जातियों के विरोधी एजैंडे के तहत राज्य के विद्यार्थियों की 1287 करोड़ रुपए की छात्रवृत्ति की राशि रोकी हुई है। जाखड़ ने कहा कि देश का किसान ही नहीं बल्कि अनुसूचित जातियों का भी मोदी सरकार द्वारा दमन किया जा रहा है।

सर्दियां में त्वचा के रूखेपन से बचने के लिए घर पर ऐसे तैयार करें फेस सीरम

उन्होंने कहा कि पहले एक साजिश के तहत एस.सी. एस.टी. एक्ट को कमजोर करने की कोशिश की गई व अब एस.सी. बच्चों की शिक्षा में रुकावटें पैदा करके यह सरकार इस भाईचारे के विकास में रुकावट बनी हुई है। जाखड़ ने कहा कि 2014 में जब से केंद्र में भाजपा के नेतृत्व वाली मोदी सरकार बनी है, इसने समाज के कमजोर वर्गों को तंग परेशान करने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। भाजपा सरकार ऐसा अपने गुप्त एजैंडे की प्राप्ति के लिए जान-बूझकर कर रही है।

खुश रहना है तो इन चीजों से बनाएं दूरी

जाखड़ ने जोर देकर कहा कि देशभर में किसान, अनुसूचित जाति वर्ग समेत समाज के हर वर्ग में मोदी सरकार के खिलाफ गुस्सा बढ़ रहा है व अभी 5 राज्यों में हुए चुनावों के नतीजे इसका प्रमाण हैं। उन्होंने कहा कि देश के लोग अगले आम चुनाव की तीव्रता से प्रतिक्षा कर रहे हैं ताकि मोदी सरकार को देश से चलता किया जा सके।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Demand for immediate release of stipend amount of SC students of Punjab students from Modi government

More News From punjab

free stats