image

नई दिल्लीः हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने नरेंद्र मोदी सरकार की ओर से खरीफ की फसलों पर न्यूनतम समर्थन मूल्य एमएसपी में की गई बढ़ोतरी को आज नाकाफी करार दिया और कहा कि अगर इस सरकार को किसानों की सही मायनों में फिक्र है तो वह उनका कर्ज माफ करे।

हुड्डा ने मीडिया साथ बातचीत में कहा, सरकार की ओर से एमएसपी में जो बढ़ोतरी की घोषणा की गई है वो नाकाफी है। जो वादा किया गया था उसके यह करीब भी नहीं है। सी-2 लागत फार्मूले के तहत बढ़ोतरी होनी चाहिए थी। उन्होंने कहा, किसान की लागत बढ़ गई है। डीजल के दाम बढ़ गए, खाद के दाम बढ़ गए। किसान की आमदनी घट गई है। इस सरकार में किसानों को सही मायनों में कोई फायदा नहीं हुआ है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, अगर इस सरकार को किसानों की वाकई फिक्र है तो वह किसानों का कर्ज माफ करे। संप्रग की सरकार के समय हमने कर्ज माफ किया था। ऊंट के मुंह में जीरा एमएसपी में इस बढ़ोतरी से कोई लाभ नहीं होगा। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल की आर्थिक मामलों से संबंधित समिति ने कल 14 खरीफ फसलों के एमएसपी में वृद्धि के प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: debt of farmers should be wavier

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats