image

लुधियाना : खालिस्तान विरोधी बयानों को लेकर लुधियाना से कांग्रेसी सांसद रवनीत सिंह बिट्टू आतंकियों के टारगेट पर हैं। कनाडा से उन्हें मारने की साजिश रची जा रही है। सूत्र बताते हैं कि हाल ही में इंटेलीजेंस ब्यूरो ने कनाडा से पंजाब में आई एक कॉल इंटरसैप्ट की है, जिसमें कनाडा में बैठा कोई व्यक्ति पंजाब में कॉल रिसीव करने वाले को बिट्टू समेत 2 शिवसेना नेताओं को जल्द मारने को बोल रहा है।

इनपुट के बाद बिट्टू को कहा गया है कि सरकार की ओर से दी गई बुलेट प्रूफ गाड़ी में ही सफर करें। सुरक्षा कर्मियों के लिए चुनौती यह भी है कि बिट्टू अक्सर सुरक्षा घेरा तोड़कर लोगों से मिलते रहते हैं। लिहाजा, उनकी पब्लिक मूवमेंट के दौरान सुरक्षा कर्मी अतिरिक्त सतर्कता बरत रहे हैं। बता दें कि बिट्टू रैफ्रैंडम 2020 को लेकर लगातार बयान दे रहे हैं।

READ NEWS : नौकरी का झांसा देकर युवती को ले गया शिमला, फिर आधी रात कमरे में घुसकर किया रेप

हाल ही में उन्होंने खालिस्तान समर्थकों को अमरीका-कनाडा में खालिस्तान बनाने की सलाह दी थी, जिसके बाद कैलिफोर्निया से आए एक वीडियो में बिट्टू को पूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह जैसे नतीजे भुगतने की धमकी दी गई थी। उधर, इस बारे में बिट्टू ने कहा कि उन्हें धमकियां तो मिलती ही रहती हैं, लेकिन उन्हें अपनी सुरक्षा एजेंसियों पर भरोसा है और वह खालिस्तान समर्थकों के खिलाफ लगातार बोलते रहेंगे।

बिट्टू ने अकालियों पर साधा निशाना

विदेशों से मिली धमकियों के बीच मंगलवार को प्रेस कांफ्रेंस में रवनीत सिंह बिट्टू ने उनके दादा बेअंत सिंह की हत्या में फांसी की सजा माफी के समर्थन के लिए अकालियों को आड़े हाथ लिया। बिट्टू ने कहा कि बलवंत सिंह राजोआणा न तो देश के संविधान और कानून को मानता है, न ही वो अपने किए पर शर्मिंदा है, बल्कि वह तो कहता है कि बाहर आकर वह फिर वैसे ही काम करेगा। ऐसे में अकाली नेताओं द्वारा उसकी सजा माफी के लिए 18 जुलाई को केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलना शर्मनाक है। अकाली दल को स्पष्ट करना चाहिए कि वह आतंकवादियों के साथ है या फिर आतंकवाद के खात्मे के लिए शहीदियां देने वालों के साथ।

READ NEWS : केंद्र सरकार का बड़ा फैसला, अब बैंकों में रखा आपका धन नहीं होगा जब्‍त

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: conspiracy being planned to kill bittu from canada

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats