image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मलौट रैली के दौरान किए हुए वादों और दावों को कांग्रेस ने झूठ का पुलिंदा कहा है। कांग्रेस ने अपने आधिकारिक बयान में कहा कि पीएम मोदी ने हमेशा पंजाब के साथ धोखा किया है। कांग्रेस के नेशनल मीडिया पेनलिस्ट जयवीर शेरगिल ने कहा कि बीजेपी की नीतियाँ हमेशा ही किसान और सेना विरोधी रही है। शेरगिल ने कहा कि जिस समय किसान सबसे ज्यादा तकलीफ में हैं, मोदी उस वक़्त रैली करने में व्यस्त हैं।

जयवीर शेरगिल ने कहा कि पंजाब की धरती पर आकर उन्होंने किसानों को झूठे सपने दिखाए है क्योंकि पीएम मोदी को खुद नहीं पता कि देश में किसानों की हालत कितनी बुरी है। मोदी सरकार पर सवालों की झड़ी लगते हुए शेरगिल ने कहा कि प्रधानमंत्री को इन सवालों के जवाब देने चाहिए। 

1.अगर भाजपा सरकार ने किसानों के लिए इतना कुछ किया तो किसानों की ख़ुदकुशी 44 फीसद क्यों बढ़ गई?
2.अगर मोदी सरकार किसानों की हितैषी है तो महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान और तमिलनाडु के किसान क्यों धरने पर बैठे हैं?
3.अगर मोदी सरकार अपने वादों की पक्की है तो पठानकोट में MSP पर किये गए वादों को क्यों नहीं पूरा किया?
4. अगर मोदी प्रो-फार्मर हैं तो किसानों का सारा कर्ज माफ़ नहीं करके कॉर्पोरेट घरानों का 272,000 लोन क्यों माफ़ किया? 
5. अगर मोदी वाकई किसानों का हित चाहते हैं तो अकाली-बीजेपी सरकार के दौरान अनाज खरीद में किये गए 12,000 करोड़ की हेराफेरी के लिए पंजाब की भरपाई क्यों नहीं करते? 

कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसानों के साथ साथ देश की सैनिकों से भी धोखा किया। 2014 में उनसे वोट लेकर सैनिकों के भी पेंशन के पैसे उड़ा लिए। जयवीर शेरगिल ने प्रधानमंत्री मोदी से सीधे सीधे सवाल करते हुए कहा कि अगर पीएम मोदी खुद को सच्चा राष्ट्रवादी मानते हैं तो उन्हें देश के किसानों और सैनिकों को इन सवालों का जवाब देना होगा।

आखिर क्यों मोदी ने सैनिकों का डिसेबिलिटी फण्ड कम किया ? देश के लिए शहीद हुए सैनिकों के बच्चों की पढाई के लिए शिक्षा फंड को 10,000 सिमित कर देना कहां तक  सही है? अपने हक़ के लिए लड़ रहे फौजियों पर जंतर-मंतर पर लाठी चार्ज करवाना कहाँ की देश भक्ति है? 
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: congress raise questions on pm modi malot rally

Advertisement
free stats