image

नई दिल्लीः मी टू कैंपेन द्वारा बहुत सी महिलाएं अपने साथ हुए अत्याचारों के बारे में खुलकर बोल रही हैं। अभिनेता नाना पाटेकर पर तनुश्री दत्ता द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद से खलबली मच गई है। अब सरकार ने भी लगातार चल रहे इस कैंपेन को मद्देनजर बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने मी टू कैंपेन द्वारा लगाए गए सभी आरोपों की जांच की जाएगी। इसके लिए केंद्र सरकार ने महिला विकास मंत्रालय को ये कार्य सौंपा है। इसके लिए महिला विकास मंत्रालय एक कमेटी बनाएगा, जो मी टू कैंपेन में लगाए गए सभी आरोपों की जांच करेगा।

Read More  #MeToo: विकास बहल के बाद कंगना रनौत ने ऋतिक रोशन पर लगाए घिनाैने आराेप

आपको बता दें कि देश में मी टू कैंपेन की आंधी बड़ी जोर से चल रही है। इसकी चपेट में नेता से लेकर अभिनेता तक बहुत से लोग हैं। नाना पाटेकर पर तनुश्री दत्ता द्वारा लगाए गए आरोपों के बाद विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर, आलोकनाथ, साजिद खान, सुभाष घई, वरुण ग्रोवर, विकास बहल आदि पर यौन उत्पीड़न का आरोप लग चुका है। साजिद खान पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोप के बाद अक्षय कुमार ने उनके साथ शुरु की गई फिल्म हाउसफुल 4 की शूटिंग कैंसल कर दी है। साथ ही साजिद खान ने भी इस फिल्म का निर्देशन नहीं करेंगे। 

Read More  #MeToo काे शिल्पा शिंदे ने बताया बेवकूफी-'कहा इंडस्ट्री में रेप नहीं', हाेता है ये...

वहीं #MeToo खुलासे में फंसे केन्द्रीय मंत्री एमजे अकबर पर अपनी पार्टी के सांसद ने मोर्चा खोल दिया है। बीजेपी सांसद ने मांग की है कि एमजे अकबर के खिलाफ जांच होनी चाहिए। बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने आजतक के साथ बातचीत में कहा कि एमजे अकबर के खिलाफ महिला का बयान ही पहली नजर में सबूत है और इस मामले की जांच होनी चाहिए। सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि उन्होंने इस मामले में खुद भी अफवाहें सुनी हैं।

Read More #MeToo: अब सुभाष घई पर लगा बलात्कार का आरोप, निर्देशक ने किया इंकार  

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: committee will be set up to examine all issues emanating from the MeTooIndia movement

More News From national

free stats