image

उत्तर प्रदेशः बहुत से नेता अपने अटपटे बयानों को लेकर सुर्खिय़ों में रहते हैं।त्रिपुरा के सीएम बिप्लब देव का नाम तो इन सब में सबसे ऊपर आता है। लेकिन अब तो यूपी के सीएम आदित्यनाथ का नाम भी इस कड़ी में जुड़ गया है। उत्तर प्रदेस के सीएम योगी आदित्यनाथ ने गन्ना किसानों को ज्यादा गन्ना न उगाने की सलाह दे डाली है और उसके पीछे योगी ने तर्क रखा है कि गन्ना ज्यादा नहीं उगाना चाहिए क्योंकि ज्यादा चीनी खाने से शूगर बढ़ती है और देश को शूगर से बचाना है। अन्य फसलें भी बोइये. ज्यादा गन्ना उत्पादन से चीनी खपत ज्यादा होती है और इससे लोगों को डायबिटीज जैसी बीमारी हो जाती है.' 

आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने ये बयान बागपत में एक जनसभा के दौरान दिया। एक मीडिया चैनल की खबर के अनुसार, योगी आदित्यनाथ यहां पर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मोर्य, नीचतिन गड़करी सहित बागपत में बड़ौत के जाट कॉलेज में फोर लेन सड़क का शिलान्यास करने पहुंचे थे।

गौरतलब है कि डॉक्टर यह बात कहते रहे हैं और कई रिसर्च में भी यह बात सामने आई है कि ज्यादा चीनी खाने का डायबिटीज होने से कोई संबंध नहीं है। यह शरीर में इंसुलीन की कमी से होता है। हालांकि यह सच है कि डायबिटीज से पीडि़त व्‍यक्ति को चीनी से बचने की सलाह दी जाती है।

जानकार कहते हैं कि जो लोग जंक फूड या मीठे पेय पदार्थों का सेवन ज्‍यादा करते हैं और मोटापे से ग्रसित हैं, साथ ही, उनकी लाइफस्‍टाइल सेहतमंद नहीं है, उनमें डायबिटीज होने की संभावना बढ़ जाती है। लेकिन डायबिटीज होने का सीधा संबंध चीनी यानी शुगर खाने से नहीं है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: CM Yogi gave statement on Shugercane Farmers

More News From uttar-pradesh

Advertisement
Advertisement
free stats