image

ज्योतिषीय विश्लेषण के लिए हमारे शास्त्रों मे कई  सूत्र दिए हैं। भाव:कुंडली के पहले, दसवें तथा ग्यारहवें भाव और उनके स्वामी से सरकारी नौकरी के बारे मैं  जान सकते हैं। सूर्य. चंद्रमा व बृहस्पति सरकारी नौकरी मै उच्च पदाधिकारी बनाता है। भाव: द्वितीय, षष्ठ एवं दशम्‌ भाव को अर्थ-त्रिकोण सूर्य की प्रधानता होने पर  सरकारी नौकरी प्राप्त करता है। नौकरी के कारक ग्रहों का संबंध सूर्य व चन्द्र से हो तो जातक सरकारी नौकरी पाता है।

कुंडली के अनुसार सरकारी नौकरी  के लिए  योग :

-  दसवें भावमें शुभ ग्रह होना  चाहिए। 

-  दसवें भाव में सूर्य तथा मंगल एक साथ होना चाहिए। 

- पहले, नवें तथा दसवें घर में शुभ ग्रहों को होना चाहिए।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: click here to know when you will get government jobs

More News From dharm

Advertisement
Advertisement
free stats