Advertisement
image

ब्रेडा : चैम्पियंस ट्रॉफी में पहले दो मैच जीत कर भारतीय पुरुष हॉकी खिलाड़ियों के हौसले बुलंद हैं। टीम का मनोबल सातवें आसमान पर पहुंच चुका है। चैम्पियंस ट्रॉफी टूर्नामेंट में भारतीय टीम आज मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया की चुनौती का सामना करने मैदान पर उतरेगी। पी.आर. श्रीजेश की कप्तानी में इस टूर्नामेंट में उतरी भारतीय टीम ने पाकिस्तान और अर्जेटीना के खिलाफ खेले गए पहले दो मैचों में जीत हासिल की थी। ऐसे में आस्ट्रेलिया के खिलाफ वह जीत की हैट्रिक लगाने के इरादे से मैदान पर उतरेगी। इस मैच में हालांकि, भारत के पास उसके दिग्गज स्ट्राइकर रमनदीप सिंह नहीं होंगे। रमनदीप घुटने में चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं।

READ NEWS : अमरनाथ यात्रा शुरू : पहली बार ड्रोन से होगी निगरानी, यात्रियों को मिलेगा आरओ का पानी

आस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले की तैयारी के बारे में टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने कहा, ‘‘इस टूर्नामेंट में अपने डिफेंस और अटैक को देखते हुए हमने कई बदलाव किए हैं। मुङो लगता है कि सबसे खास बात यह है कि हमारे स्ट्राइकर सर्कल में खतरा मोल लेने के लिए तैयार हैं। ऐसे में अगर उनके हाथों से गेंद निकल रही हो, तो डिफेंडर उनकी मदद करेंगे।’’कोच का मानना है कि शायद इसी बदलाव के कारण टीम के खिलाड़ी पहले दो मैचों में बिना किसी दबाव के खेल पाने में सक्षम रहे हैं।

READ NEWS : पुलिस जवानों की प्रमोशन पर फैसला आज, सिपाही हो सकेगा इंस्पेक्टर की पोस्ट के बाद रिटायर

बेहतर डिफेंड करना टीम की प्राथमिकता है। भारतीय टीम के कोच का मानना है कि आस्ट्रेलिया विश्व की सबसे फिट टीम है। वह बहुत तेजी के साथ खेलती है और नियमित है। ऐसे में भारतीय टीम ने जिस लय के साथ टूर्नामेंट की शुरुआत की है उसी लय के साथ उसे आगे बढ़ना होगा। पूल टेबल में आस्ट्रेलिया की टीम दूसरे स्थान पर है। भारतीय टीम शीर्ष पर है। ऐसे में भारतीय टीम को अगर फाइनल में स्थान हासिल करना है, तो उसे आस्ट्रेलिया के अलावा गुरुवार को बेल्जियम के खिलाफ होने वाले मैच में भी जीत हासिल करनी होगी।

 

पंजाब और देश - विदेश से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करें।हर पल अपडेट रहने के लिए DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक। Youtube

Web Title: champions trophy india vs australia match today


advertisement
free stats Web Analytics