image

चंडीगढ़: मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने कहा कि आगामी ओलंपिक में पंजाब के खिलाड़ी पंजाब का नाम रोशन करेंगे क्योंकि राज्य में कौशल विकास की कोई कमी नहीं है। मुख्यमंत्री आज राष्ट्रमंडल और एशियाई खेल-2018 में बेहतर प्रदर्शन करेन वाले 23 खिलाड़ियों को 15.55 करोड़ रुपए के राज्य खेल पुरस्कार भेंट किए जाने पर आयोजित समारोह में बोल रहे थे। इस मौके पर खिलाड़ियों को सर्टिफिकेट के साथ-साथ एक एप्पल आई फोन भी दिया गया। 

खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह ने कहा कि पंजाबियों के लिए यह मान वाली बात है कि राज्य की बागडोर इस समय खुद खिलाड़ी रहे कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के हाथों में है।  उन्होंने कहा कि राज्य ने हाल ही में व्यापक खेल नीति को अमल में लाया है जिससे पंजाब में खेलों को और उत्साह मिलेगा। खेल मंत्री ने कहा कि पटियाला में खेल यूनिवर्सिटी स्थापित करने के लिए जमीन की शिनाखत की जा चुकी है। इस समारोह में स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू, विधायक परगट सिंह और पंजाब ओलंपिक एसोसिएशन के प्रधान सुखदेव सिंह ढींडसा भी उपस्थित थे। समारोह में कॉमेडियन गुरप्रीत घुग्गी ने राज्य में खेल सभ्याचार को बहाल करने के लिए पंजाब सरकार के यत्नों की सराहना की।


हिना सिद्धू को मिला 1.75 करोड़ रुपए 

मुख्यमंत्री की ओर से सम्मानित किए खिलाड़ियों में हिना सिद्धू को 1.75 करोड़ रुपए का ईनाम दिया गया। उन्होंने राष्ट्रमंडल और एशियाई खेलों में पिस्तौल शूटिंग में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक जीते थे। इसी तरह ही प्रणव चोपड़ा बैडमिंटन में स्वर्ण पदक जीतने के लिए 75 लाख रुपए, अंजुम मौदगिल को शूटिंग में रजत पदक जीतने के लिए 50 लाख रुपए, नवजीत कौर ढिल्लों को डिस्कस में कांस्य पदक जीतने के लिए 40 लाख रुपए, विकास ठाकुर को वैट लिफ्टिंग में कांस्य पदक जीतने के लिए 40 लाख रुपए चैक भेंट कर सम्मानित किया गया है। वेटलिफ्टर प्रभदीप सिंह की ओर से रजत पदक जीतने के लिए 50 लाख रुपए का ईनाम उसकी माता ने प्राप्त किया। समारोह में ओलंपियन मिल्खा सिंह भी मौजूद थे।

तजिंदर पाल और स्वर्ण सिंह को मिला 1-1 करोड़ का पुरस्कार 

एशियाई खेलों में तजिंदर पाल सिंह तूर और स्वर्ण सिंह को क्रमवार गोला फैंकने और रोइंग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए एक-एक करोड़ रुपए का इनाम दिया गया है। सुखमीत सिंह को रोइंग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए 1 करोड़ रुपए का इनाम प्राप्त हुआ है जबकि तिहरी छलांग (एथलैटिक्स) में स्वर्ण पदक जीतने के लिए अरपिंदर सिंह को 1 करोड़ रुपए का ईनाम मिला है। कबड्डी में रजत पदक के लिए रमनदीप कौर खैहरा को 75 लाख रुपए, हॉकी में रजत पदक के लिए रीना खोखर को 75 लाख रुपए, हॉकी में कांस्य पदकके लिए रुपिंदर पाल सिंह को 50 लाख रुपए, हॉकी में रजत पदक के लिए गुरजीत कौर को 75 लाख रुपए और हॉकी में कास्य पदक जीतने के लिए अकाशदीप सिंह को 50 लाख रुपए ईनाम मिला। अकाशदीप सिंह द्वारा यह ईनाम उसके पिता ने प्राप्त किया, जबकि हॉकी खिलाड़ी मनप्रीत सिंह की तरफ से उसकी माता ने 50 लाख रुपए का ईनाम प्राप्त किया।

जकार्ता एशियम गेम्स के इन विजेताओं को मिले ईनाम

कांस्य पदक जीतने वाले हॉकी खिलाड़ी में शामिल दूसरे खिलाड़ियों को भी 50-50 लाख रुपए का ईनाम दिया गया जो उनके पारिवारिक सदस्यों ने प्राप्त किए हैं। यह खिलाड़ी इस समय भारतीय हॉकी के राष्ट्रीय कैंप में हिस्सा ले रहे हैं। हालांकि उनको ऑनलाइन संदेश भेजा गया था जिसके जवाब में उन्होंने यह ईनाम दिए जाने के लिए पंजाब सरकार का धन्यवाद किया है। इन खिलाड़ियों में मनदीप सिंह, हरमनप्रीत सिंह, सिमरनजीत सिंह, कृष्णा बहादुर पाठक और दिलप्रीत सिंह शामिल हैं। रोइंग में कांस्य पदक जीतने के लिए भगवान सिंह को 50 लाख रुपए का ईनाम दिया गया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Captain Government gives 15.55 crore prizes to 23 players

More News From punjab

Advertisement
Advertisement
Advertisement
free stats