image

जींद: बिघाना गांव के दलित समाज के लोगों ने शनिवार को व्यक्ति की हत्या के आरोपी को गिरफ्तार करने व पीड़ित परिवार को सरकार से एक सदस्य को  सरकारी नौकरी व मुआवजा मिलने तक मृतक शव का संस्कार नहीं करने का फैसला किया। लोगों द्वारा जींद-असंध मार्ग के गंगाटेहड़ी चौक स्थित सड़क पर शव रखकर जाम  लगाने का प्रयास किया, लेकिन सूचना मिलते ही डीएसपी पवन कुमार, कप्तान सिंह, तहसीलदार जींद परवीन कुमार व अलेवा थाना प्रभारी हरि ओम शर्मा मौके पर पहुंच गए।

 

मौके  पर पहुंचे जिला प्रशासनिक अधिकारियों के समक्ष बोलते हुए समाज के कामरेड शीशपाल ने कहा कि बीजेपी सरकार के शासन के दौरान आए दिन दलितों पर अत्याचार हो रहे हैं। बिघाना के दलित व्यक्ति सत्यवान उर्फ सता की शनिवार को हत्या करने के बाद आरोपी को पुलिस ने अभी तक काबू नही किया है। समाज के लोगों को आश्वासन देते हुए डीएसपी  पवन कुमार ने कहा कि हत्या के आरोपी प्रदीप उर्फ बिट्टू को पुलिस ने रात को ही काबू कर लिया है और अन्य मांगों को पूरा कराने के लिए डीसी अमित खत्री द्वारा जींद के  तहसीलदार प्रवीन कुमार को भेजा गया है। समाज के लोग पीड़ित परिवार का मांग पत्र तहसीलदार को देकर डीसी के माध्यम से सरकार तक भेज सकते हैं। 
पीड़ित परिवार ने मांग  पत्र के माध्यम से मांग की मुकदमे की सीबीआई जांच कराने, 15 लाख मुआवजा मिले, परिवार के एक सदस्य को नौकरी दिलाने की मांग की। इसके अलावा मामले मे में एक-दो अन्य के शामिल होने की आंशका जताई। साथ ही डीएसपी स्तर के अधिकारी से जांच कराने की मांग की गई। तहसीलदार द्वारा पीड़ित परिवार की पांच मांगे सरकार तक पहुंचाने के आश्वासन के बाद ही समाज के लोगों द्वारा व्यक्ति के शव का अंतिम संस्कार किया गया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: bodies stir was caused notified to keep on the road

More News From haryana

free stats