image

नई दिल्ली: एशियन जूनियर बैडमिंटन चैम्पियनशिप का भारत के युवा बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने खिताब जीत कर नया इतिहास रच दिया है। छठी वरीयता प्राप्च 16 वर्षीय लक्ष्य ने रविवार को खेले गए फाइनल में दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी थाईलैंड के कुनालवट विटिडसर्न को सीधे सेटों में 21-19, 21-18 से हराते हुए गोल्ड मेडल जीता। इसके साथ ही लक्ष्य इस चैंपियनशिप में गोल्ड जीतने वाले गौतम ठक्कर और पीवी सिंधु के बाद तीसरे भारतीय बन गए हैं। 

लक्ष्य पिछले 53 सालों में वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप जीतने वाले पहले भारतीय पुरुष खिलाड़ी बन गए हैं। इससे पहले आखिरी बार किसी भारतीय पुरुष खिलाड़ी ने 1965 में ये खिताब जीता, तब गौतम ठक्कर ने वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप अपने नाम की थी। लक्ष्य ने इस पूरे टूर्नामेंट में जोरदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने क्वॉर्टर फाइनल में दूसरी वरीयता प्राप्त चीन के ली शेफेंग को 21-14 21-12 से मात देते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। सेमीफाइनल में भी उन्होंने लाजवाब प्रदर्शन करते हुए चौथी वरीयता प्राप्त इंडोनेशिया के इकशान लियोनार्डो एमानुएल को 21-7, 21-14 से हराते हुए फाइनल में जगह बनाई थी।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Badminton: Lakshya sen win gold in junior badminton championship, made history

More News From sports

Advertisement
Advertisement
free stats