image

जगराओं: बुधवार की देर रात करीब साढ़े नौ बजे थाना सिटी से चंद कदमों की दूरी पर सुभाष गेट के पास गुंडागर्दी का नंगा नाच हुआ। गुंडागर्दी करने वालों ने एक नौजवान को पीट-पीट कर अधमरा कर दिया और सड़क पर ही खून से लथपथ हालत में छोड़ फरार हो गए। गुंडागर्दी के दौरान यदि आसपास के कुछ लोग नौजवान को छुड़वाने न आते तो शायद नौजवान की जान तक भी चली गई होती। पीड़ित की पहचान अमित लूंबा उर्फ रिंकू के तौर पर हुई है, जो सुभाष गेट के पास ही कबाड़ की दुकान चलाता है। अस्पताल में भर्ती अमित लूंबा के सिर पर डाक्टरों की ओर से 24 टांके लगाए गए हैं, जिसके बाद उसकी हालत खतरे से बाहर थी। मिली जानकारी के मुताबिक सारा विवाद कार और एक्टिवा की टक्कर से शुरू हुआ है। 

 
 


अस्पताल में उपचारधीन रिंकू लूंबा ने बताया कि बीती रात उसकी कार भारत हेयर ड्रैसर के सामने से निकल रही थी कि पीछे तेजी से आ रहे एक्टिवा सवार ने टक्कर मार दी। इस दौरान एक्टिवा सवार ने ही खुद उसे गाड़ी नहीं चलानी आती की बात कहकर बहसबाजी शुरू कर दी और फोन कर अपने बेटे व भाई सहित अज्ञात लोगों को मौके पर बुलाया। रिंकू लूंबा के मुताबिक आरोपियों ने आते ही लोहे की राड से उस पर हमला कर दिया और तीन लोगों ने बारी बारी उसके सिर पर लोहे की राड, लोहे के पंच व ईंट से कई वार कर डाले। रिंकू के मुताबिक वो खून से लथपथ सड़क पर गिरा रहा और इस दौरान भी आरोपियों ने उसकी टांग तोड़ने की कोशिश की, परंतु आस-पास खड़े दो लोगों ने ही बीच आकर उसे छुड़वाया। घटना के बाद मौके पर पहले थाने से पुलिस पार्टी तो पहुंची परंतु तब तक आरोपी मौके से फरार हो चुके थे। एस.एच.ओ. सिटी इन्द्रजीत सिंह का कहना है कि वो खुद देर रात मौके पर जाकर आए थे और सुबह उन्होंने ए.एस.आई. हरमेश कुमार को सिविल अस्पताल में बयान दर्ज करने के लिए भेज दिया था। एस.एच.ओ. का कहना है कि पुलिस कानून मुतबिक कार्रवाई करेगी और किसी भी आरोपी को बख्शा नहीं जाएगा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: a few steps away from the police station the dancers fickle dancer

More News From ludhiana

free stats