image

चंडीगढ़: पंजाबी एन.आर.आईज. के लिए पंजाब सरकार जल्द ही एक अलग लोकपाल नियुक्त करने जा रही है। इसके 7 सदस्य होंगे। इसका मुखी सीनियर सíवंग या रिटायर्ड आई.ए.एस. अफसर होगा। दूसरे मैंबर ए.डी.जी.पी. स्तर का अधिकारी होगा। इसके अलावा 5 अन्य मैंबर होंगे, जो समाज के अलग-अलग वर्गो से लिए जाएंगे, मगर उनका एन.आर.आईज. के साथ संबंध होगा। एन.आर.आई. लोकपाल बनाने के लिए सरकार कानून बनाएगी और इसको अगले आने वाले विधानसभा सत्र में पास कराया जाएगा।

पता चला है कि इस संबंधी फाइल सी.एम. ऑफिस में पहुंच गई है। जिक्रयोग है कि एन.आर.आईज. के बहुत सारे मसले हैं जिन्हें हल कराने के लिए उन्हें काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लोकपाल के पास सारे दीवानी केस होने का अधिकार होगा और एन.आर.आई. कमीशन इसके सहायक के रूप में काम करेगा। पंजाब में बहुत सारे केस उन लड़कियों से जुड़े हैं जिनकी शादियां एन.आर.आई. लड़कों के साथ हुई थी, लेकिन वह उन्हें साथ लेकर नहीं गए या फिर उन्हें छोड़ दिया गया है। इसके अलावा एन.आर.आईज. के जायदाद संबंधी बहुत सारे केस हैं, जिनका निपटारा भी एन.आर.आई. लोकपाल ही करेगा। सूत्रों ने बताया कि लोकपाल के केसों के फैसलों के विरुद्ध अपील हाईकोर्ट में ही की जा सकेगी।  



DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Will separate Lokpal for NRI

free stats