image

कैथल: सरकारी विद्यालयों में पढने वाले विद्यार्थियों को राष्ट्रीय साधन व योग्यता छात्रवृति परीक्षा अर्थात एनएमएमएस उत्तीर्ण करने पर 48 हजार रुपये की छात्रवृति प्राप्त होगी। जिला में दो परीक्षा केंद्रों पर इस परीक्षा का आयोजन किया गया, जिसमें सरकारी विद्यालयों में कक्षा 8 में पढने वाले ऐसे विद्यार्थियों ने भाग लिया, जिनके माता-पिता की वार्षिक आय एक लाख 50 हजार रुपये से कम है। 

Read More: शराब पीकर वाहन चलाने वाले नशेड़ियों की खैर नहीं, रद्द होंगे लाइसैंस

जिला शिक्षा अधिकारी जोगेंद्र हुड्डा ने बताया कि राजकीय प्राथमिक विद्यालय शक्ति नगर में दो परीक्षा केंद्र स्थापित किए गए थे, जिन पर 545 विद्यार्थियों ने दो भागों में यह परीक्षा दी। प्रथम भाग में मानसिक योग्यता संबंधित एवं द्वितीय भाग में बौद्घिक योग्यता संबंधित 90-90 बहुविकल्पिय प्रश्न पूछे गए थे। सुबह 11 बजे से दो बजे तक आयोजित की गई इस परीक्षा के लिए जिला विज्ञान विशेषज्ञ सुनीता गुलाटी तथा कैथल के खंड शिक्षा अधिकारी रतिराम शर्मा को नोडल अधिकारी बनाया गया था।

Read More: साइकिल की रैली निकाल कर पर्यावरण के प्रति किया जागरूक

राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के अनिल भटनागर और राजेश वर्मा को केंद्र अधीक्षक का कार्य सौंपा गया था। डाईट से सुल्तान सिंह और चंद्र किशोर ने आॅबजर्वर के रूप में कार्य किया।  जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले विद्यार्थियों को सरकारी विद्यालय में पढते रहने पर मानव संसाधन मंत्रालय भारत सरकार द्वारा एक हजार रुपये प्रति माह के हिसाब से कुल 48 हजार रुपये छात्रवृति के रूप में मिलेंगे। परीक्षा को शांतिपूर्वक सम्पन्न करवाने में बलजीत गोपेरा, संजय मलिक, शशि गुप्ता, कंवर भान व अन्य अध्यापकों का विशेष योगदान रहा।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 48 thousand rupees scholarship will be received on passing the exam: Jogendra Hooda

free stats