image

सुजानपुर : जयसिंहपुर के तहत बाबा बालकरूपी मंदिर में माथा टेकने आए ऊना के बाथड़ी गांव के 2 सगे भाइयों की न्यूगल नदी में डूबने से मौत हो गई। दोनों युवक अरूण (23) व सुनील (21) पुत्र रमेश गांव बाथड़ी हरोली जिला ऊना निवासी देर रात रिश्तेदारों व परिजनों सहित बालकरूपी मंदिर में माथा टेकने आए थे। प्राप्त जानकारी के अनुसार हरोली के बाथड़ी गांव से शुक्रवार रात को श्रद्धालुओं का एक जत्था ट्रक में सवार होकर बाबा बालकरूपी पहुंचा था।

READ NEWS : पत्थरबाजों को काबू करती नजर आएंगी अब महिला कमांडो, दी गई है स्पैशल ट्रेनिंग

शनिवार सुबह 6 बजे के करीब सभी लोग न्यूगल नदी के किनारे हाथ मुंह धोने और नहाने न्यूगल चले गए। इसी दौरान नदी के किनारे नहा रहे 1 युवक अरुण पुत्र रमेश चंद का पांव फिसल गया और वो गहरे पानी में चला गया। उसे गहरे पानी मे जाता देख वहीं मौजूद उसके सगे भाई सुनील ने उसे बचाने के लिए पानी मे छलांग लगा दी लेकिन भाई को बचाने के बजाए वो भी डूबने लगा।

READ NEWS : द ग्रेट खली शो पर असमंजस खत्म, सरकार नहीं आयोजक उठाएंगे खर्च

दोनों को डूबता देख आसपास मौजूद लोगों ने शोर मचाया। शोर सुन कर कुछ लोग पानी में उतरे, लेकिन जब उन दोनों को बाहर निकाला तो दोनों मृत थे। लंबागांव पुलिस के ए.एस.आई. नन्द लाल ने बताया कि दोनों शवों को कब्जे में लेकर मामला दर्ज कर लिया गया है। प्रशासन की तरफ से नायब तहसीलदार आलमपुर ने मौके पर पहुंच कर युवकों के परिजनों को फौरी राहत के तौर पर 20 हजार की सहायता राशी प्रदान की है जिसकी पुष्टि एस.डी.एम अश्वनी सूद ने की।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: 2 brothers die drowning in the river

More News From himachal

Advertisement
Advertisement
free stats