image

जालंधर  : कर्मफलदाता शनि का सीरियल बहुत ही लोकप्रिय हो गया है, आजकल सभी बच्चे भी शनि के सीरियल के फैन हो गए हैं और हर कोई शनि नाटक का रोज तहेदिल से इंतजार करता है। बड़ों के साथ बच्चे भी इस नाटक को काफी पसंद करते हैं। लगभग 13-14 साल के कर्मफलदाता शनि का असली नाम कार्तिकेय मालवीय है। टी.वी. सीरियल कर्मफलदाता शनि से लीड रोल करने वाला बच्चा कार्तिकेय मालवीय काफी पॉपुलर हो गया है। कार्तिकेय अपनी एक्ंिटग से दर्शकों को खूब लुभा रहा है। शूटिंग के साथ कार्तिकेय सैट पर ही अपनी पढ़ाई भी करता रहा। कार्तिकेय ने इंडियाज बैस्ट ड्रामेबाज से अपने करियर की शुरु आत की थी। सवेरा भवन में पहुंचकर कार्तिकेय ने ‘दैनिक सवेरा’ के मुख्य संपादक श्री शीतल विज, डायरैक्टर श्रीमती वाणी विज से आशीर्वाद लिया। ‘दैनिक सवेरा’ की विशेष बातचीत में टी.वी. सीरियल कर्मफलदाता शनि से लीड रोल करने वाला बच्चा कार्तिकेय मालवीय ने अपने कई अनुभवों को सांझा किया।

 

गोल्डन पटेल अवार्ड फॉर फेवरेट चाईल्ड आर्टिस्ट भी किया हासिल 
बाल कलाकार कार्तिकेय मालवीय को कर्मफलदाता शनि में शनि के किरदार के लिए जाना जाता है। उसे गोल्डन पटेल अवार्ड में फेवरेट चाईल्ड आर्टिस्ट के अवार्ड से नवाजा गया। कार्तिकेय ने इस अवार्ड के लिए भगवान और अपने अभिभावकों का शुक्रि या तो अदा किया, साथ ही अपने शो के प्रोड्यूसर सिद्धार्थ तिवारी का भी धन्यवाद किया। कार्तिकेय बताते हैं कि एक कार्यक्रम में जब उन्हें अवार्ड मिला था तो उन्होंने आभार व्यक्त करने के लिए सिद्धार्थ तिवारी को स्टेज पर आमंत्रित किया और अपना अवार्ड उन्हें समर्पित किया। सिद्धार्थ ने भी खुश होकर कार्तिकेय को गले से लगा लिया। कार्तिकेय ने बताया कि उन्होंने एक्टिंग कहीं पर नहीं सीखी है। उन्होंने जो सीखा है वह अपनी माता नीलिमा मालवीय से ही सीखा है। मेरी मां ने मेरे अंदर हुनर देखा और एक्टिंग को तराशा। पिता महेश कुमार का भी आशीर्वाद हमेशा मेरे साथ रहा। 
श्री देवी तालाब मंदिर में आना मेरा सबसे बड़ा सौभाग्य
कार्तिकेय ने बताया कि उन्हें खुशी है कि पहली बार पंजाब की इस पावन धरती पर आकर उन्हें काफी कुछ देखने को मिला। जब वह टी.वी. सैट पर रहते हैं तो उन्हें दुनिया की किसी चीज का नहीं पता चलता, उन्हें सबसे अधिक खुशी तभी हुई है जब वह 24 मार्च को उत्तर भारत के प्रसिद्ध आस्था स्थल सिद्ध शक्तिपीठ श्री देवी तालाब मंदिर की पावन धरती पर पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले मां भगवती का आशीर्वाद लिया, फिर उपस्थित सैकड़ों लोगों के बीच जाकर कर्मफलदाता शनि में शनि के किरदार के बारे में लोगों को जागरूक किया कि शनि सभी के मित्र हैं न कि दुश्मन। उन्होंने बताया कि जो अच्छा कर्म करेगा वही फल पाएगा। कर्म का फल तो एक न एक दिन सभी को भुगतना ही पड़ेगा। कार्तिकेय ने बताया कि श्री देवी तालाब मंदिर में आना मेरा सबसे बड़ा सौभाग्य है, और लोगों का प्यार देखकर वह काफी खुश हैं कि इतना बड़ा सैलाब एक साथ शोभायात्र में देखने को मिला। इन पलों को वह कभी नहीं भूलेंगे और हमेशा याद रख इन यादगार लम्हों को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करेंगे। 
मेहनत करने के बाद शनि का किरदार निभाने का मौका मिला
कार्तिकेय ने बताया कि उसकी 1 बड़ी बहन नूपुर भी है, जो अपनी पढ़ाई पूरी कर रही है, उसने भी मुङो बहुत कुछ सिखाया है। बचपन से ही नूपुर को नृत्य, गायन और डांस में बहुत रु चि थी। म्यूजिक क्लास नूपुर के साथ वह भी जाया करते थ।े दोनों भाई-बहन की बड़े पर्दे पर पहली एंट्री जी टी.वी. के सारेगामा के साथ हुई थी और कड़े प्रयास करने के बाद बड़ी मेहनत करने के बाद कार्तिकेय को शनि का किरदार निभाने का मौका मिला जिसमें उनकी मां ने उनका पूरा साथ दिया। अपनी मां का साथ मिलने पर कार्तिकेय ने एक नया ही मुकाम हासिल कर लिया है। उनकी मां की वजह से आज उनके एक्सप्रैशन बहुत अच्छे हैं। 

 


शनिदेव बने नन्हे कार्तिकेय से सीखिए टाइम मैनेजमैंट, शूटिंग के समय करते हैं ऑनलाइन पढ़ाई
मैंने अपनी एक्टिंग के बेसिक्स मम्मा से सीखे हैं। वह भरत नाट्यम करती हैं जो कि पूरी तरह से एक्सप्रैशन पर बैस्ट होता है। ऐसे ही स्क्रिप्ट को फील कर अपने एक्सप्रैशन को चेंज करने की ट्रैनिंग उन्होंने मुङो दी। वह बताता है कि यह शो मेरे लिए स्कूल से कम नहीं है। इसमें काम करने के बाद मैंने किसी भी काम को करने के लिए पेशेंस रखना और किसी भी परिस्थिति में खुद को शांत रखना अच्छे से सीख लिया है। नौवीं पास कर दसवीं कक्षा में जाने वाले कार्तिकेय ने कहा कि शो में काम करने के कारण मैंने अपनी पढ़ाई पर इफैक्ट नहीं पड़ने दिया है। प्रोडक्शन हाऊस ने मेरे लिए सैट पर स्पैशल ट्यूटर लगा रखा था जो कि जब भी शूटिंग से थोड़ा सा टाइम मिलता है तो मुङो पढ़ाते थे। इसके साथ ही मैं अपने दोस्तों और टाचर्स के साथ ऑनलाइन भी पढ़ाई करता हूं। मेरे दोस्त मुङो मिलकर काफी खुश होते हैं और मैं उनके साथ भी अपने अनुभवों को सांझा करता हूं।   
मेरा सपना है बालीवुड की फिल्मों में एंट्री मारना
बाल कलाकार कार्तिकेय मालवीय ने बताया कि कर्मफलदाता शनि का सीरियल करने में बहुत कुछ सीखने को मिला। उन्होंने बताया कि वह जैकी श्रॉफ के बेटे टाईगर श्रॉफ की तरह बनना चाहता है, और विदेश में जाकर पूरी तरह से तैयारी करूंगा। कार्तिकेय ने बताया कि उनके मनपसंद एक्टर अमिताभ बच्चन व टाईगर श्रॉफ हैं जो उन्हें बेहद पसंद हैं। वह बताता है कि मुङो पता नहीं था कि वह कर्मफलदाता शनि के सीरियल पर एकदम आ जाएंगे। वह अपनी हर चीजों के लिए शौंक पूरा करते हैं, क्रिकेट खेलना, घूमना, खाना खाना इत्यादि। कार्तिकेय मालवीय ने बताया कि मन की तमन्ना है कि वह जल्द ही बालीवुड की फिल्मों में एंट्री मारे, इसके लिए भी प्रयास जारी है और वह मेहनत करते रहेंगे जिसके लिए सफलता एक दिन जरूर मिलेगी। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: mother kartikeya shani dev jalandhar news

More News From jalandhar

Advertisement
Advertisement
free stats