image

पश्चिम बंगालः अमित शाह के रोड शो के दौरान हुए हंगामे, हिंसा और आगजनी के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घटना का संज्ञान लिया और कहा कि क्या अमित शाह भगवान हैं जो उनके खिलाफ कोई प्रदर्शन नहीं कर सकता।  ममता बनर्जी ने कहा कि बीजेपी वालों का नसीब अच्छा है कि मैं यहां पर बैठी हूं, वरना एक सैंकड में दिल्ली में मौजूद बीजेपी दफ्तर पर मैं अपना कब्जा कर सकती हूं। ममता बनर्जी की यह बयान गत दिवस पश्चिम बंगाल में अमित शाह के रोड शो में हुई हिंसा के बाद आया है।

इस हिंसा के बाद भाजपा ने तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ सख्त रुख इख्तियार कर लिया है और चुनाव आयोग से ममता बनर्जी की शिकायत की है। इतना ही नहीं बीजेपी ने ममता बनर्जी के खिलाफ एक्शन लेने की मांग उठाई है। 

वहीं अमित शाह ने आज प्रेस कान्फ्रेंस करके कहा कि पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। टीएमसी के गुंडे वहां पर किसी को भी टिकने नहीं दे रहे हैं। ममता के राज में वहां पर कोई सुरक्षित नहीं है। इसके अलावा अमित शाह ने कहा कि वहां पर आगजनी हुई और टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने कॉलेज के अंदर पड़ी हुई इश्वर चंद्र विद्यासागर की मूर्ति को तोड़ने का आरोप भाजपा कार्यकर्ताओं पर लगाया है, अमित शाह ने कहा कि कॉलेज की चाबियां बाजपा कार्यकर्ताओं के पास नहीं होती है तो फिर भाजपा कार्यकर्ता मूर्ति कैसे तोड़ सकते हैं। अमित शाह ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ता तो सड़क पर थे फिर वो कॉलेज के परिसर में कैसे जा सकते हैं, जबकि कॉलेज के अंद तो टीएमसी के कार्यकर्ताओं ने कब्जा जमा रखा था। 

आपको बता दें कि मंगलवार को कोलकाता में अमित शाह के रोड शो के दौरान बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों के बीच झड़प हुई थी। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने रोड शो पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा ईंट और पत्थर फेंकने का आरोप लगाया है।उन्होंने कहा, 'मेरी रैली के दौरान दो जगहों पर अशांति पैदा की गई। तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने हिंसा भड़काने की कोशिश की और हम पर ईंट व पत्थर फेंके।' वहीं, अमित शाह के रोड शो में कथित पथराव के बाद कॉलेज स्ट्रीट के पास हिंसा भड़क उठी और वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Mamta Banerjee statement on West Bengal Violence

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats