image

उत्तर प्रदेशः लोकसभा चुनावों को लेकर पार्टियां चुनाव प्रचार में जुटी हुई हैं। ऐसे में रैलियों में कई नेता भाषा की मर्यादा को भूल जाते हैं। जिसका खामियाजा अब योगी और मायावदती को भुगतना भी पड़ रहा है। योगी और मायावती अब दूसरे चरण के लिए चुनाव प्रचार नहीं कर सकेंगे। आचार संहिता का उल्लंघन करना कितना मंहगा पड़ सकता है। इसके बारे में सीएम योगी और मायावती बाखूबी जानते हैं। लेकिन अब सीएम योगी अपनी इस भूल का पश्चाताप करने के लिए हनुमान जी के मंदिर में हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। 

Read More  माल्या और नीरव मोदी के अलावा 36 कारोबारी हुए देश से फरार

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुबह 8:30 बजे हनुमान सेतु मंदिर पहुंचेंगे जहां केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह भी पहुंच रहे हैं। इसी मंदिर में योगी आदित्यनाथ हनुमान चालीसा का पाठ पढ़ेंगे। चुनाव आयोग की ओर से योगी के भाषण देने पर प्रतिबंध लगाया गया है और उनके इस प्रतिबंध में मंदिर में जाना शामिल नहीं है, ऐसे में वह मंदिर जा सकते हैं। योगी आदित्यनाथ भले ही नॉमिनेशन में शामिल ना हों लेकिन राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ लखनऊ के हनुमान सेतु मंदिर में एक साथ होंगे जहां एक तरीके से आज की चुनावी प्रचार की शुरुआत होगी।

Read More  IPL 12 : हार्दिक पांड्या ने बेंगलुरु से छीनी जीत

इससे पहले चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती के प्रचार करने पर रोक लगा दी। चुनाव आयोग की ये रोक 16 अप्रैल से शुरू होगी जो कि योगी आदित्यनाथ के लिए 72 घंटे और मायावती के लिए 48 घंटे तक लागू रहेगी। आयोग की ओर से प्रतिबंध लगाए जाने के बाद योगी आदित्यनाथ और मायावती ना ही कोई रैली को संबोधित कर पाएंगे, ना ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर पाएंगे और ना ही किसी को इंटरव्यू दे पाएंगे। चुनाव आयोग का एक्शन 16 अप्रैल सुबह 6 बजे शुरू होगा। चुनाव आयोग की ओर से लगे प्रतिबंध के बाद योगी आदित्यनाथ 16, 17 और 18 अप्रैल तक और मायावती 16 और 17 अप्रैल को कोई चुनाव प्रचार नहीं कर सकेंगी।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: yogi adityanath to visit hanuman setu mandir lucknow

More News From national

Next Stories
image

free stats