image

लखनऊः बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने अखिलेश यादव पर बड़ा हमला किया है। मायावती ने कहा कि अखिलेश यादव ने उन्हें मना किया था कि वो किसी मुसलमान को टिकट नहीं देंगे। मायावती ने कहा कि अखिलेश यादव ने मुझे संदेश भिजवाया था कि मुसलमानों को ज्यादा टिकट न दी जाए, इसके पीछे धार्मिक आधार पर वोटों की ध्रुवीकरण होने की बात कही थी, लेकिन मायावती ने उनकी बात नहीं मानी। 

मायावती के इस बयान से देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश की सियासत में मुसलमान सियासी विमर्श के केंद्र में आ गए हैं। खुद को मुसलमानों की हितैषी बताती रही समाजवादी पार्टी सवालों के घेरे में आ गई है। सवाल उठने लगे हैं कि क्या सपा वास्तव में देश की लोकतांत्रिक व्यवस्था में मुसलमानों की भागीदारी की विरोधी है? सपा के अध्यक्ष ने आखिर मायावती से मुसलमानों को ज्यादा टिकट न देने के लिए क्यों कहा, सियासी गलियारों में इसे लेकर चर्चा शुरू हो गई है।

राजनीति से जुड़े लोगों के साथ ही राजनीति के जानकार और गैर राजनीतिक व्यक्ति भी अपने-अपने हिसाब से बसपा सुप्रीमो के इस वक्तव्य की व्याख्या कर रहे हैं। कोई अखिलेश को कठघरे में खड़ा कर रहा है तो कोई इसे मायावती की सियासी माया बता रहा है। सबके अपने-अपने तर्क भी हैं।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Mayawati big allegation on Akhilesh Yadav

More News From national

Next Stories
image

free stats