image

कानपुरः भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज विपक्षी दलों से अपने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की मांग करते हुए पार्टी कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे देश के लिये बेहद महत्वपूर्ण साबित होने जा रहे अगले लोकसभा चुनाव में भाजपा को इतनी संख्या में सीटें जिताएं कि विरोधियों के ‘दिल दहल‘ जाएं। शाह ने यहां भाजपा बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन में उत्तर प्रदेश में हुए सपा-बसपा गठबंधन और राष्ट्रीय स्तर पर एकजुट हो रहे विपक्षी नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि विपक्ष बताए कि आपका प्रधानमंत्री पद का प्रत्याशी कौन है। सुन लोउ अगर गठबंधन बना तो सोमवार को मायावती, मंगलवार को अखिलेश यादव, बुधवार को ममता, बृहस्पतिवार को शरद पवार, शुव्रवार को देवगौड़ा प्रधानमंत्री बनेंगे।

Read More  मशहूर सूफी गायक राहत फतेह अली खान पर बड़ा आरोप, ED ने भेजा नोटिस

शनिवार और रविवार को देश छुट्टी पर चला जाएगा। ये लोग परिवर्तन करने चले हैं और नेता का पता नहीं। उन्होंने कहा कि भाजपा के फोर बी हैं- बढ-ता भारत, बनता भारत। जो गठबंधन करने चले हैं उनके फोर बी हैं- बुआ, भतीजा, भाई और बहन। इन लोगों की सरकार देश को आगे नहीं ले जा सकती। हम चाहते हैं कि मोदी जी के नेतृत्व में एक मजबूत सरकार बने। विपक्षी दल चाहते हैं कि सरकार मजबूर हो।

Read More फिलीपीनः एक मस्जिद में ग्रेनेड हमला, दो लोगों की मौत

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि मैं कार्यकर्ताओं का आह्वान करता हूं कि यह लड़ाई देश के लिए महत्वपूर्ण है। यह लड़ाई जीतना भाजपा के साथ-साथ भारत के लिये भी जरुरी है। हमारा कार्यकर्ता 50 प्रतिशत लड़ाई जीतकर ही आएगा। सीटों की संख्या ऐसी हो कि विरोधियों के दिल दहल जाएं। उन्होंने एनआरसी का मुद्दा भी उठाते हुए कहा कि चुनाव में जाने से पहले गठबंधन के सभी नेताओं को इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिये। भाजपा दोबारा सत्ता में आयी तो कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक-एक घुसपैठिये को चुन-चुनकर बाहर निकाला जाएगा।

Read More सांसदों ने ‘बिना समझौते’ के ब्रेक्जिट को किया खारिज

शाह ने कहा कि वह कांग्रेस के सभी नेताओं का आह्वान करना चाहते हैं कि राम जन्मभूमि का नाम लेने का आपको कोई अधिकार नहीं है. वह उत्तर प्रदेश की जनता से कहने आये हैं कि राम जन्मभूमि पर भव्य मंदिर जल्द से जल्द बने इसके लिये भाजपा कटिबद्ध है। उन्होंने कहा कि राम जन्मभूमि न्यास की 42 एकड- जमीन कांग्रेस सरकार ने अधिग्रहीत कर ली थी। न्यास ने वह जमीन वापस मांगी, तो हमने इसका फैसला कर लिया। वह बहुत बड़ा फैसला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को साधुवाद है कि उन्होंने यह साहसी कदम उठाया है. हम आशा करते हैं कि जल्द से जल्द अयोध्या मामले का निपटारा हो और श्रीराम अपने भव्य मंदिर में विराजमान होकर जनता का कल्याण करें।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Amit Shah Said- BJP Workers Win So Many Seats That The Opponents' Heart Beat

More News From national

Next Stories
image

free stats