image

तमिलनाडुः तमिलनाडु के तट पर मछली पकड़ने पर सालाना 61 दिवसीय प्रतिबंध सोमवार से लागू हो गया। यह मौसम मछलियों के गर्भकाल का है। रामेश्वरम के मत्स्य विभाग के सहायक निदेशक एम गोपीनाथ ने बताया कि 13 जिलों की करीब 12,000 मशीन वाले नाव इस अवधि के दौरान समुद्र से दूर रहेंगी।

Read More  रामपुर में हो रहा द्रौपदी का चीर हरण, मौन साधने की गलती ना करें मुलायमः सुषमा स्वराज

उन्होंने बताया कि यह प्रतिबंध 15 जून तक चलेगा। यह प्रतिबंध सिर्फ मशीन वाली नौकाओं के लिए है। यह प्रतिबंध पारंपरिक नावों पर लागू नहीं होता है। मशीन वाली नौकाओं के कारण प्रजनन के मौसम के दौरान समुद्री प्राणियों को बाधा पहुंचती है।

Read More  जीत का आशीर्वाद लेने मंदिर गए शशि थरुर के साथ हुआ हादसा, खून से हुए लथपथ

तमिलनाडु की तटरेखा 1,076 किलोमीटर से ज्यादा लंबी है और यह समुद्री मछली उत्पादन के मामले में मुख्य शीर्ष राज्यों में से एक है। 2017 से पहले यह प्रतिबंध 45 दिनों का था।रामेश्वरम मत्स्य संगठन के अध्यक्ष पी सेसुराजा ने कहा कि हजारों मछुआरे इस दौरान बेरोजगार हो जाएंगे। उन्होंने सरकार से मछुआरों को मुआवाजे के रुप में दी जाने वाली 5,000 रुपये की राशि बढ़ाकर 10,000 रुपये करने की मांग की है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Annual ban on fishing on Tamilnadu coast

More News From tamilnadu

free stats