image

राजस्थानः सारे देश भर में दशहरा धूमधाम से मनाया गया और हर तरफ खुशी की लहर दिखी, लेकिन राजस्थान में इस बार का दशहरा कुछ अच्छा नहीं रहा। दरअसल, राजस्थान के टोंक जिले के मालपुर कस्बे में दशहरे के दिन हंगामा हो गया और ये इतना बढ़ा कि रावण दहन नही होने दिया गया। जिसके बाद तनाव के चलते प्रशासन ने एहतियात के तौर पर आज सुबह 6 बजे से ही कर्फ्यू लगा दिया ताकि किसी तरह की कोई अप्रिय घटना न हो सके।

दरअसल, देर शाम रावण धहन के मौके पर जब दशहरा जुलूस अल्पसंख्यक इलाके से आरएसी चौकी के पास से गुजर रहा था तो मुस्लिम समाज दशहरा जुलूस का फूलों से स्वागत कर रहा था। इसी बीच कुछ असामाजिक तत्वों ने जुलूस पर पथराव कर दिया और भगदड़ मच गई। 

इससे नाराज होकर मालपुरा के विधायक कन्हैयालाल डेढ़ सौ लोगों के साथ धरने पर बैठ गए। इन लोगों ने कल मालपुरा में रावण दहन भी नहीं होने दिया। इनका कहना था कि जब तक पथराव करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा तब तक रावण दहन नहीं होने देंगे। प्रशासन को डर था कि सुबह होने पर हालात बिगड़ सकते हैं लिहाजा नगरपालिका कर्मचारियों के साथ मिलकर सुबह 4:30 बजे रावण दहन कर दिया और 6:00 बजे से कर्फ्यू लगा दिया है,हालांकि थाने के बाहर अभी विधायक धरने पर बैठे हुए हैं।

आपको बता दें कि  टोंक जिले में मालपुरा कस्बा बेहद संवेदनशील रहा है जहां पर हर साल दो या तीन बार हिंदू मुस्लिम आबादी आपस में भिड़ जाती है। कई बार यहां पर बड़े दंगे भी हो चुके हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: curfew in malpura rajashtan after tension on dussehra

More News From national

Next Stories
image

free stats