image

मथुराः वृन्दावन के सरकारी आश्रय सदन में रह रहीं 70 से भी अधिक वृद्ध, विधवा एवं परित्यक्त महिलाओं को मंदिरों तक ले जाने और वापस लाने के लिए राज्य सरकार जल्दी ही मिनी बस सेवा शुरु करेगी। इस आशय की जानकारी महिला कल्याण विभाग की विशेष सचिव मेधा रुपम ने मंगलवार को दी। रुपम रामताल के निकट बनाए गए कृष्ण आश्रय सदन एवं अन्य स्थानों पर रह रहीं बेसहारा महिलाओं के रहने-खाने की व्यवस्था का जायजा लेने यहां आई थीं।

उन्होंने बताया, ‘हालांकि, आश्रय सदन में अभी भी उसकी क्षमता से कम महिलाएं रह रही हैं। जरुरतमंद महिलाओं को सदन का लाभ मिल सके, इसके लिए इसका प्रचार-प्रसार करना आवश्यक है।’ रुपम ने बताया कि कृष्ण कुटीर महिला आश्रय सदन में 1,000 विधवा एवं वृद्ध महिलाओं के रहने की व्यवस्था है। अभी यहां करीब 70 महिलाएं रह रही हैं।

उन्होंने कहा कि कई महिलाएं उम्र, भिक्षावृत्ति और अन्य कारणों से आश्रय सदन तक आने-जाने में असमर्थ हैं। ऐसी महिलाओं की मदद करने के लिए मिनी बस सेवा शुरु की जाएगी। रुपम ने कहा कि सरकार इन सभी महिलाओं को सम्मानजनक जीवन देने के लिए प्रतिबद्ध है।
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: The State Government will start the service for the widows of Vrindavan.

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats