image

चंडीगढ़: मेवात के नूह की बलात्कार पीड़िता ने अब हाईकोर्ट में याचिका दायर कर अपने और अपने परिवार की सुरक्षा की मांग के साथ ही आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की भी मांग की है। याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस अरविन्द सांगवान ने हरियाणा सरकार hमेवात के एस.पी. और एस.एच.ओ. को नोटिस जारी कर जवाब तलब कर लिया है। इसके साथ ही इस मामले मैं अब तक पुलिस द्वारा की गई जांच और कार्यवाही की स्टेटस रिपोर्ट भी 30 जनवरी को मामले की अगली सुनवाई पर हाईकोर्ट में पेश किये जाने के आदेश दे दिए हैं।

 


दायर याचिका में पीड़िता ने कहा है कि पुलिस इस मामले के आरोपियों को बचाने में लगी है, क्योंकि सभी आरोपी रसूखदार है। ऐसे में पुलिस दबाव में इनके खिलाफ कार्यवाही ही नहीं कर रही है। पुलिस ने 9 नवम्बर को दो आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया था लेकिन जांच के नाम पर पुलिस कुछ नही कर रही। पुलिस इस मामले में आरोपियों के प्रभाव के चलते केवल खानापूर्ति कर रही है। हाईकोर्ट ने याचिका पर एस.पी. से अब तक की गई जाँच की स्टेटस रिपोर्ट तलब कर ली है। 

बता दें कि पीड़िता ने इससे पहले हाईकोर्ट में याचिका दायर कर बलात्कार के बाद ठहरे अपने गर्भ के गर्भपात की मांग की थी। हाईकोर्ट ने इस याचिका का निपटारा करते हुए एच.एच.के.एम. मैडीकल कॉलेज को दो विशेषज्ञों की एक टीम का गठन कर पीड़िता के स्वास्थ्य की जांच के आदेश दिए हुए हैं। ताकि जांच से तय हो सके कि पीड़िता का गर्भपात सुरक्षित रहेगा या नहीं। वहीं पीड़िता ने हाईकोर्ट में आने से पहले कॉलेज में अपने गर्भपात की मांग को लेकर जो आवेदन किया था, उस पर कोई भी कार्यवाही नहीं करने पर हाईकोर्ट ने सरकार को उन अधिकारियों और डॉक्टरों के खिलाफ कार्यवाही के भी आदेश दिए हुए हैं। अब पीड़िता ने आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही और अपनी सुरक्षा की मांग की है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: victim accused police save rapists

IPL 2019 News Update
free stats