image

चंडीगढ़: लोन दिलवाने के नाम पर उनसे कागजात लेकर उन्हीं कागजात से एक्टिवा खरीदने वाले पांच लोगों को आप्रेशन सैल की टीम ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों में से एक युवक आटो मोबाइल कंपनी में काम करता है। आरोपी की निशानदेही पर पुलिस ने फर्जीवाड़े से खरीदी और बेची गई 20 एक्टिवा बरामद की है। अन्य चार एक्टिवा की बरामदगी के लिए टीम तलाश में लगी है। पांचों आरोपी 25 मार्च तक पुलिस रिमांड पर हैं। आरोपियों की पहचान सैक्टर-48ए निवासी सुखदेव सिंह, हल्लोमाजरा के दीप कांप्लेक्स निवासी सुरजीत सिंह, रामदरबार फेज-1 निवासी संजय उर्फ रोंथालिया, डेराबस्सी निवासी संदीप उर्फ सोनू, डेराबस्सी के गुलाबगढ़ रोड निवासी प्रदीप गौतम के रूप में हुई है। एसपी रवि कुमार ने बताया कि पहले दो व्यक्तियों ने शिकायत दी थी कि उनके दस्तावेज पर किसी ने एक्टिवा खरीद लिया। एक्टिवा उनके नाम पर शहर में रजिस्टर्ड है लेकिन उन्हें जानकारी नही है। शिकायतकर्ता ने बताया कि कुछ समय पहले लोन लेने के चक्कर में उसने एक व्यक्ति को दस्तावेज जमा किया था लेकिन बाद में उसने लोन पास नही होने की बात करके मना कर दिया था। जिसके बाद पुलिस ने उस आरोपितों की रैकी की और उनके बारे में पड़ताल किया तो मामले का पूरा खुलासा हो गया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने बताया कि संदीप कुमार एमएस बेदी सुजुकी में सैल्समेन था और प्रदीप गौतम शोरूम पर कैपिटल फस्ट कंपनी से दोपहिया वाहनों पर लोन करवाता था। रवि कुमार का कहना है कि इस गिरोह में और भी लोग शामिल हो सकते है। पुलिस जल्द से जल्द उन लोगों की गिरफ्तारी कर सकती है। जिसके लिए पुलिस लगातार मामले की छानबीन कर रही है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: vehicles selling vehicles on peoples documents

More News From chandigarh

Next Stories
image

free stats