image

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार सुबह भारतीय रेलवे की मोस्ट अवेटिड ट्रेन-18 (Train 18) या 'वंदे भारत एक्सप्रेस' को हरी झंडी दिखाकर रवाना कर दिया। इससे पहले भारत की सबसे तेज ट्रेन का पीएम मोदी ने निरीक्षण किया। शुक्रवार को नई दिल्ली से रवाना हुई ट्रेन वाराणसी तक जाएगी। ट्रेन में रेल अधिकारियों के साथ पत्रकारों का ग्रुप भी गया है। ट्रेन को रवाना करने से पहले पीएम ने रेल अधिकारियों के साथ ट्रेन के अंदर निरीक्षण किया। इस मौके पर पीएम ने कहा कि ट्रेन को चेन्न्ई इंटीग्रल कोच फैक्‍ट्री में तैयार किया गया है। उन्होंने मेक इन इंडिया की तारीफ करते हुए कहा कि रेलवे ने इसे सही दिशा दी है।

जानदार बैटरी के साथ Samsung Galaxy Tab Active 2 भारत में लॉन्च

वंदे भारत देश की पहली बिना इंजन वाली सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन है। ट्रेन को मेक इन इंडिया के तहत चेन्नई की इंटीग्रल कोच फैक्‍टरी में 100 करोड़ रुपये की लागत से तैयार किया गया है। ट्रेन के दरवाजे ऑटोमेटिक है और यह पूरी तरह से एसी ट्रेन है। ट्रेन में कुल 16 कोच हैं और 1100 से ज्‍यादा यात्री इसमें एक बार में सफर कर सकते हैं। ट्रेन के कुछ पार्ट्स को विदेश से आयात किया गया है। ट्रेन के कोच में स्पेन से मंगाई गई विशेष सीट लगी है, जिन्हें जरूरत पर 360 डिग्री तक घुमाया जा सकता है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Varanasi is not far from Delhi, PM Modi flagged off Vande Express

More News From business

free stats