image

अमृतसर: हैलो! श्री गुरु रामदास जी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे में कुछ आतंकी घुस आए हैं। इन आतंकियों को हवाई अड्डे के भीतर प्रवेश करने में रोका जाए। इस संदेश के साथ ही हवाई अड्डे में तैनात सी.आई.एस.एफ. के सैकड़ों जवान, एयरफोर्स के कमांडो, सेना के जवान व पंजाब पुलिस के जवान हवाई अड्डे के चारों तरफ इन आतंकियों की तलाश में जुट जाते हैं। हवाई अड्डे के भीतर प्रवेश करने का प्रयास कर रहे इन आतंकियों के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ होती है और आतंकियों को ढेर कर दिया जाता है।

 

26 जनवरी को देखते हुए हवाई अड्डे में जारी किए हुए हाईअलर्ट के बाद किसी भी आतंकी घटना को रोकने के लिए विभिन्न सुरक्षा एजैंसियों ने शनिवार देर रात साढे 10 बजे मॉक ड्रिल की। हवाई अड्डे के मुख्य प्रवेश द्वारों व हवाई पट्टी में आतंकी घटनाओं के दृश्य क्रिएट कर सुरक्षा एजैंसियों ने किसी भी संभावित आतंकी घटना को रोकने के लिए संयुक्त रूप से आप्रेशन किया। इस आप्रेशन के दौरान सभी सुरक्षा एजैंसियों के बीच जहां तालमेल की जांच की गई, वहीं आतंकियों को हवाई अड्डे के भीतर जाने से कैसे रोकना है उस पर भी एजैंसियां अपने आप्रेशन में सफल रहीं।

 

‘दैनिक सवेरा’ से बातचीत करते हुए सी.आई.एस.एफ. के अधिकारी ने बताया कि इस मॉक ड्रिल में किसी भी संभावित विस्फोटक घटना व फिदायनी हमले से निपटने की स्थितियों को भी शामिल किया गया। मॉक ड्रिल में हवाई अड्डे के शहर की तरफ के प्रवेश द्वार से हवाई अड्डे की तरफ आने वाले आतंकियों को रोकने के लिए किए जाने वाले आप्रेशन ड्रिल में शामिल किए गए। इस आप्रेशन के दौरान पंजाब पुलिस हवाई अड्डे के बाहर व परिसर में यात्रियों व उनके परिजनों की सुरक्षा की जिम्मेदारी निभाती है। याद रहे कि इस मॉक ड्रिल केंद्रीय सुरक्षा एजैंसियों की ओर से समय-समय पर दिए गए निर्देशों के आधार पर होती है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: terrorist attack at airport

More News From amritsar

Next Stories
image

IPL 2019 News Update
free stats