image

कोच्चि : वर्षा और बाढ़ से तबाह केरल के लिए विदेशी सहायता को लेकर उत्पन्न विवाद के बीच केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने आज कहा कि राज्य के लिए विदेशी सहायता ग्रहण करने में ‘कुछ तकनीकी समस्या’ है और वह प्रधानमंत्री कार्यालय के साथ इस मामले पर चर्चा करेंगे।
केरल के लिए पूर्ण सहायता का आश्वासन देते हुए मंत्री ने कहा कि इस दक्षिण राज्य के लिए सहयोग का हाथ बढ़ाने में कोई राजनीति नहीं है। उन्होंने मुख्यमत्री राहत कोष के लिए अपनी सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास निधि से 25 लाख रुपये की घोषणा की।

केरल को वर्षा और बाढ़ से करीब 20000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। अठावले ने एर्णाकुलम में सरकारी अधिकारियों के साथ पुनर्वास कार्य की समीक्षा करने के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘‘विदेशी सहायता ग्रहण करने में कुछ तकनीकी समस्या है’’ उन्होंने कहा, ‘‘जब मैं दिल्ली जाऊंगा तब निश्चित ही मैं प्रधानमंत्री कार्यालय से संपर्क करुंगा। पता करुंगा कि क्या संयुक्त अरब अमीरात या कोई अन्य सरकार राज्य के लिए पैसे देने के लिए तैयार है ’’

उन्होंने कहा, ‘‘राज्य को बाढ़ के कारण करीब 20000 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है. यदि और किसी मदद की जरुरत होगी तो हमारी सरकार निश्चित ही मदद करेगी और इसमें कोई राजनीति नहीं है.’’ केंद्रीय मंत्री के जे अल्फोंस ने कल केंद्र से विदेशी सहायता नहीं स्वीकार करने की 14 साल पुरानी अपनी नीति में केरल की प्राकृतिक आपदा के आलोक में एक बारगी अपवाद करने का अनुरोध किया था। अल्फोंस ने आज दिन में कहा था कि प्राकृतिक आपदा के लिए विदेशी सहायता नहीं लेने की यह नीति राजग को संप्रग से विरासत में मिली थी। इस बीच कांग्रेस महासचिव और केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी ने कहा कि विदेशी सहायता पर केंद्र का रुख स्वीकार्य नहीं है। 

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Technical problems in accepting foreign aid for Kerala: Athawale

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats