image

#MeToo के आरोपों का घेरा लगातार देश में बढ़ता जा रहा है। बॉलीवुड से शुरू होकर इस घेरे में मीडिया जगत के मशहूर नामों पर कई आरोप लगे और अब यह घेरा कोर्पोरेट वर्ल्ड की तरफ भी अपनी नज़र गढ़ा चुका है। अब इसके घेरे में मशहूर ओटोमोबाइल कंपनी टाटा मोटर्स की एंट्री हुई है। Tata Motors के चीफ कम्युनिकेशन ऑफिसर सुरेश रंगराजन पर एक महिला ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है।

सुरेश पर आरोप है कि वो कई युवा महिला कर्मचारियों का उत्पीड़न कर चुके हैं। सुरेश पर आरोप है कि वो अपने महिला कर्मचारियों से अच्छा व्यवहार नहीं करते। सुरेश पर लगे आरोप ट्विटर पर तेज़ी से वायरल हो रहे हैं।

 

टाटा मोटर्स ने सुरेश पर लगे आरोप पर तुरंत प्रतिक्रिया देते हुए कहा है, 'टाटा मोटर्स की कोशिश एक ऐसा वर्कप्लेस बनाने की होती है जहां काम करने वाले कर्मचारी खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें। सुरेश पर लगे आरोपो की जांच की जाएगी और कड़े कदम उठाए जाएंगे।

 

सुरेश के खिलाफ मिली शिकायत को इंटर्नल कम्प्लेंट कमिटी को भेज दिया गया है। हम ऐसी किसी भी हरकत को बर्दाश्त नहीं करेंगे। टाटा मोटर्स ने साफ किया है कि सुरेश पर लगे आरोप की खबर मिलते ही उन्हें छुट्टी पर भेज दिया गया है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Tata Motors also came under the charge of #MeToo, allegations on Communication Head

Next Stories
image

free stats