image

चंडीगढ़ : जस्टिस रणजीत सिंह कमीशन पर चर्चा करते हुए कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने कहा कि ये रिपोर्ट बेहद ही महत्वपूर्ण है और यह कहना चाहूंगा कि यह कोई छोटी कमीशन नहीं है, जिसका मजाक उड़ाया जा सके, जिसे फेंका जा सके। उन्होंने कहा कि अकाली दल ने कहा कि वह जस्टिस रणजीत कमीशन को नहीं मानती क्या अकाली दल बताएगी की वो डेरा सच्चा सौदा का प्रमुख बाबा राम रहीम को मानते हैं या उस रिपोर्ट को जो जस्टिस जोरा सिंह कमीशन ने बनाई थी, जो उस समय के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने बनवाई थी। वह 3 बार जोरा सिंह रिपोर्ट को लेकर मुख्यमंत्री के पास गए, लेकिन प्रकाश सिंह बादल ने उन्हें मिलने का समय नहीं दिया। जिससे वो रिपोर्ट आज तक सामने नहीं आई।

READ NEWS : पंजाब विधानसभा की कार्रवाई शुरू, रणजीत कमीशन की रिपोर्ट पर होगी बहस

अकाली दल ने पंथ को बदनाम किया और बर्बाद किया। अकाली-भाजपा के कार्यकाल में 30 बार श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी हुई और 22 बार हिन्दू धार्मिक ग्रंथ भगवत गीता की 22 और कुरान की 5 और ईसाई धर्म ग्रंथ की 5 बार बेअदबी हुई । उनके कार्यकाल में 122 बार बेअदबी हुई। सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि मैं प्रकाश सिंह बादल को सिख नहीं मानता। उन्होंने कहा कि बादलों ने पूरे पंजाब को लूट कर खा लिया। सुखबीर बादल के खिलाफ प्रस्ताव पास किया जाए। सुखजिंदर रंधावा ने मांग की धार्मिक ग्रंथों की बेअदबी का जो कानून है जिसमें 22a के तहत अकाली दल के प्रधान ने जैसे रिपोर्ट को पैरों के नीचे लेकर आये हैं और उसे रौंदा है।

READ NEWS : पंजाब विधानसभा : दादूवाल के मुद्दे पर आम आदमी पार्टी, कांग्रेस के पक्ष में उतरी

जिसमें कई धार्मिक ग्रंथों के नाम लिखे हुए थे वो भी बेअदबी ही है। इसलिए  सुखबीर बादल के खिलाफ भी मामला दर्ज हो। जिसके बाद सदन में मुद्दा उठा कि क्या प्रस्ताव किया जा सकता है और क्या मामला दर्ज होगा। जिसके जवाब में स्पीकर राणा केपी सिंह ने आप विधायक और वकील एचएस फूलका से लीगल एडवाइस मांगी जिस पर फूलका ने कहा कि यह लीगल डॉक्यूमेंट हैं और ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। लेकिन रिपोर्ट में साफ लिखा है कि पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने डीजीपी सुमेध सैनी को फायरिंग के आदेश दिए और डेरा सच्चा सौदा प्रमुख को बचाया। सुखबीर बादल और प्रकाश सिंह बादल सिखों के दोषी हैं, उन्हें सजा मिलनी चाहिए। रंधावा ने कहा कि सुखबीर बादल सीधे तौर पर बेअदबियों में शामिल हैं।

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Sukhbir and Parkash Singh Badal guilty of Sikhs, They should got punished: Randhawa

More News From punjab

Next Stories
image

free stats