image

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के बुरे प्रदर्शन के बाद पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष राज बब्बर द्वारा पार्टी आलाकमान को इस्तीफा भेजे जाने के बाद ट्विटर पर कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को उनके राजनीति छोड़ने के वादे की याद दिलाई जा रही है।अप्रैल में सिद्धू ने राहुल गांधी की अमेठी से जीत का पूरा भरोसा जताते हुए कहा था कि अगर राहुल यहां से चुनाव हार गए तो वह राजनीति छोड़ देंगे।जैसे ही साफ हो गया कि स्मृति ईरानी के हाथों राहुल गांधी की अमेठी में हार हो गई है, ट्विटर पर यूजर सिद्धू को उनके वादे की याद दिलाने लगे और उनसे राजनीति छोड़ने के लिए कहने लगे।

शुक्रवार को भी ट्विटर पर हैशटैग सिद्धू क्विट पॉलिटिक्स ट्रेंड होता रहा।

एक यूजर ने लिखा, ‘‘शेरी, आप एक सरदार हैं। सरदार अपनी बात के लिए जाने जाते हैं। अपने पब्लिसिटी स्टैंड पर अब स्टैंड लीजिए। वैसे भी, आपके पास मुंबई में तो पार्ट टाइम जॉब है ही। ओ..चक दे फट्टे नाप दे किल्ली, सुबह जालंधर शाम नू दिल्ली, ठोको ताली।एक अन्य ने लिखा, ‘‘सिद्धू के राजनीति छोड़ने का वक्त आ गया। अगर आप अपनी बात की अहमियत मानते हैं और सरदार हैं तो आप तुरंत इस्तीफा दीजिए। राहुल गांधी की शानदार हार के बाद सभी स्तब्ध हैं, भाजपा भी। बहरहाल, सिद्धू क्विट पॉलिटिक्स।एक अन्य यूजर ने एक न्यूज रिपोर्ट पोस्ट की जिसमें सिद्धू के प्रण की तस्वीर थी और लिखा, ‘‘प्रिय शेरी, अपनी बात का लिहाज रखें, कृपया इस्तीफा दें। हम सब बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Siddhu is reminded on social media being left out of politics

More News From national

Next Stories
image

free stats