image

कैथल: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आर.एस.एस.) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य इंद्रेश कुमार ने कहा है कि जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती रमजान में सीज फायर की बजाय पावन पवित्र महीने में यह अपील करें कि मुसलमान सच्चा मुसलमान बनकर दिखाएं। गोली, बम, पत्थरबाजी, हमलों की बजाए शांति, प्रेम, पवित्रता व विकास के रास्ते को चुनें वह यहां विवाह समारोह में शिरकत करने के लिए आए हुए थे। 

पत्रकारों से बातचीत में इंद्रेश कुमार ने कहा कि जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री यह सुनिश्चित करें कि घाटी में रमजान में कोई पत्थर नहीं उठाएगा। कोई बंदूक नहीं उठाएगा। रमजान पाकिस्तान सहित मुसलमानों के लिए एक इम्तिहान है कि पावन पवित्र महीने में किसी का खून नहीं बहेगा। किसी पर पत्थर नहीं चलेगा। कोई गोली नहीं चलेगी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज आए। यह पूरे विश्व के मुस्लिम नेताओं, मौलानाओं व धर्म गुरुओं के लिए भी चुनौती है।
 
पर्यटक की मौत को दुर्भाग्यपूर्ण बताया : कश्मीर में पत्थरबाजी में पर्यटक की मौत को इंद्रेश कुमार ने दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने कहा कि विदेशी ताकतें कश्मीर के युवाओं को बहकाकर देशविरोधी कार्यों में लगा रही हैं। जब कश्मीर की जनता इनके खिलाफ खड़ी होगी तो अपने आप विकास का रास्ता खुलेगा। कश्मीर की जनता यह मांग करे कि पाक कश्मीर पर अपने अवैध कब्जे को छोड़ दे।
 
हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा : इंद्रेश कुमार ने कहा कि राष्ट्रीय मुस्लिम मंच की ओर से शीघ्र ही देश में हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा। इसमें चीन के तिब्बत व हिमालय के भू-भाग पर अवैध कब्जे के खिलाफ लोगों के हस्ताक्षर करवाए जाएंगे। रमजान, रक्षाबंधन, नवरात्र, दीपावली, गुरु पर्व, बाबा साहब अंबेदकर जन्मोत्सव सहित कई अवसरों पर लोगों से अपील की जाएगी कि चीनी माल का बहिष्कार करें। इससे देश में 2 से 3 करोड़ लोग बेघर हो गए हैं। चीन का विस्तारवाद चीन के लिए ही 
हानिकारक है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: riot not rocking choose the path of peace love and development rss

Next Stories
image

free stats