image

इंफालः उग्रवादी एवं छात्र संगठनों के बहिष्कार के आह्वान तथा कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच मणिपुर में शनिवार को 70वां गणतंत्र दिवस समारोह मनाया गया। राज्यपाल डा. नजमा हेपतुल्ला ने कांगला में आयोजित मुख्य समारोह में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा फहराया और परेड को सलामी ली। प्रथम मणिपुर रायफल्स के परेड मैदान से मणिपुर पुलिस, एनसीसी, आईआरबी, होम गार्ड, फायर सर्विस, तथा राज्य के विभिन्न हिस्सों से आयी सांस्कृतिक मंडलियों ने परेड में हिस्सा लिया। परेड कंगला से होते हुए परेड ग्राउंड में समाप्त हुई। राज्य सरकार के विभागों ने भी अपनी गतिविधियों को झांकियों का परेड में प्रदर्शन किया। सुरक्षा के मद्देनजर सरकारी एजेंसियों ने परेड मार्ग में विशेष द्वार बनाए गए थे।

Read More 70वें गणतंत्र दिवस पर गूगल ने समर्पित किया रंगीन डूडल

हर वर्ष की तरह इस बार भी उग्रवादी संगनठनों ने विरोध स्वरुप गणतंत्र दिवस का बहिष्कार किया। छात्र संगठनों ने भी गणतंत्र दिवस का बहिष्कार की घोषणा और आतंकवादी हमले की चेतावनी के मद्देनजर लोगों की सुरक्षा के लिए विशेष व्यवस्था की गई थी। सामाजिक संगठनों ने नागरिकता विधेयक का विरोध करते हुए कहा कि इस विधेयक के पारित होने से क्षेत्र के सामाजिक और राजनीतिक ताने-बाने को खतरा है। इसलिए हम गणतंत्र दिवस समारोह का बहिष्कार करते है।

Read More 70वां गणतंत्र दिवसः परेड में दिखी सैन्य शक्ति की झलक, देखें तस्वीरें

इस अवसर पर मुख्यमंत्री एन बीरेन ने परेड मैदान में सभी प्रतिभागियों को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार पहले ही केंद्र से इस विधेयक के संदर्भ में अनुरोध करने का निर्णय ले चुकी है। उन्होंने कहा कि राज्य के लोगों की हितों की रक्षा के लिए केंद्र सरकार से मणिपुर पीपुल्स बिल को स्वीकृत करने की मांग की गयी है। ऑल मणिपुर यूनाइटेड कलब आर्गोनाइजेशन (एएमयूसीओ) सिविल सोसायटी और राज्य के अन्य संगठनों ने अपनी अपनी मांगों को लेकर संयुक्त रुप से गणतंत्र दिवस का बहिष्कार करने की घोषणा की है।

Read More  मध्यप्रदेश की महिला मंत्री नहीं पढ़ सकीं मुख्यमंत्री का संदेश, पढ़ें पूरी खबर

 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Republic Day Celebrated In Manipur Between Boycott

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats