image

नई दिल्लीः पेट्रोल और डीजल के दाम में वृद्धि का सिलसिला सोमवार को एक बार फिर थम गया, लेकिन अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के भाव में जोरदार तेजी आई। खाड़ी क्षेत्र में फौजी तनाव बढ़ने से कच्चे तेल का दाम उछला है। बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव 70 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर चला गया।  

तेल विपणन कंपनियों ने लगातार चार दिनों की वृद्धि के बाद सोमवार को पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कोई बदलाव नहीं किया। इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम 72.03 रुपये, 74.76 रुपये, 77.71 रुपये और 74.85 रुपये प्रति बने रहे। चारों महानगरों में डीजल के दाम भी स्थिरता के साथ 65.43 रुपये, 67.84 रुपये, 68.62 रुपये और 69.15 रुपये प्रति लीटर पर बने रहे।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज यानी आईसीई पर ब्रेंट क्रूड के नवंबर डिलीवरी अनुबंध में सोमवार को 10.11 फीसदी की तेजी के साथ 66.31 डॉलर प्रति बैरल पर पर कारोबार चल रहा था। इससे पहले ब्रेंट क्रूड का दाम 71.62 डॉलर प्रति बैरल तक उछला। वहीं, न्यूयार्क मर्केंटाइल एक्सचेंज यानी नायमैक्स पर अमेरिकी लाइट क्रूड डब्ल्यूटीआई के नवंबर डिलीवरी अनुबंध में 8.80 फीसदी की तेजी के साथ 59.62 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। डब्ल्यूटीआई का भाव 63.47 डॉलर प्रति बैरल तक उछला।

एंजेल ब्रोकिंग के करेंसी व ऊर्जा रिसर्च मामलों के डिप्टी वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने  कहा कि दुनिया की प्रमुख तेल उत्पादक कंपनी सऊदी अरामको के तेल उत्पादक केंद्र पर पिछले सप्ताह हुए हमले के बाद तेल की आपूर्ति बाधित होने की आशंका बनी हुई है जिससे कीमतों में जोरदार तेजी आई है। हालांकि इसका असर, पेट्रोल और डीजल के भाव पर पड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि तुरंत तो कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन अगर यह तेजी लगातार कुछ दिनों तक बनी रहती है तो पेट्रोल और डीजल के दाम में भारी वृद्धि देखने को मिल सकती है। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Petrol and diesel price not increased

More News From national

Next Stories
image

free stats