image

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले के बाद पूरा देश पाकिस्तान को लेकर गुस्से में है। भारत के लोग पाकिस्तान का हुक्का पानी बंद करने की बात कर रहे हैं। भारत ने भले ही पाकिस्तान जाने वाली तीन नदियों का पानी रोकने की बात कही हो, लेकिन भारत के इस कदम से पाकिस्तान पर कोई असर नहीं पड़ेगा। यह कहना है पाकिस्तान जल संसाधन मंत्रालय के सचिव ख्वाजा शुमैल का। पाकिस्तानी अखबार डॉन को दिए इंटरव्यू में ख्वाजा शुमैल ने कहा कि भारत पूर्वी नदियों का पानी यदि रोकेगा तो उसका पाकिस्तान पर कोई असर नहीं पड़ेगा। क्योंकि ये नदियां सिंधु समझौते के तहत भारत के अधिकार में आती है।

उन्होंने यह भी कहा कि यदि भारत तीनों नदियों के पानी को डाइवर्ट करके अपने लोगों के लिए इस्तेमाल करता है तो इस कदम पर पाकिस्तान को कोई भी आपत्ति नहीं है। सिंधु जल समझौते के तहत रावि, सतलुज और ब्यास के पानी पर भारत का अधिकार है। गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक कार्यक्रम में यह कहा था कि सिंधु जल समझौते के तहत आने वाली रावी, ब्यास और सतलुज का पानी डायवर्ट कर यमुना में लाया जाएगा। जो अब तक पाकिस्तान में जा रहा था। पानी को डायवर्ट करने से जम्मू- कश्मीर, पंजाब, हरियाणा समेत कई राज्यों में सिंचाई के लिए पानी मिलेगा और किसान कई किस्म की फसल उगा सकेंगे। इन तीनों प्रोजेक्ट पर पहले ही काम शुरू हो चुका है।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Pakistan's response will not affect India's move

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats