image

नई दिल्ली: आगस्टा वैस्टलैंड वी.वी.आई.पी. हैलीकॉप्टर मामले में गिरफ्तार कथित रक्षा एजैंट सुशेन मोहन गुप्ता द्वारा दायर जमानत याचिका का विरोध करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ई.डी)ने सोमवार को कहा कि उसके भी उन 36 कारोबारियों की तरह देश से फरार होने की संभावना है जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। ई.डी. ने विशेष जज अरविंद कुमार को बताया कि विजय माल्या और नीरव मोदी समेत कुल 36 कारोबारी हाल में देश से फरार हो चुके हैं। जांच एजैंसी के विशेष लोक अभियोजक डी.पी. सिंह और एन.के. मट्टा ने सुशेन के उन दावों का विरोध किया कि उसकी समाज में गहरी जड़े हैं। 

Read More  IPL 12 : हार्दिक पांड्या ने बेंगलुरु से छीनी जीत

एजेंसी ने कहा कि माल्या, ललित मोदी, मेहुल चौकसी, नीरव मोदी और संदेसरा बंधु (स्टर्लिंग बायोटैक लिमिटेड के प्रवर्तक) की समाज में ज्यादा गहरी जड़ें थीं इसके बाद भी वे देश छोड़ गए। ऐसे 36 कारोबारी हैं जो हाल में देश छोड़कर फरार हुए हैं। जिरह के दौरान ई.डी. की वकील संवेदना वर्मा ने कोर्ट को बताया कि मामले की जांच अहम चरण में है और एजैंसी यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि ‘आरजी’ कौन है जिसका संदर्भ सुशेन की डायरी में है। 

Read More  CSK से हारा KKR, कोच कैलिस ने कहा- खिलाड़ी 9 दिन में पांच मैच खेलकर थक गये

वर्मा ने गुप्ता पर मामले के गवाहों को प्रभावित करने का आरोप लगाते हुए कोर्ट को बताया कि उसने मामले में साक्ष्यों को नष्ट करने की भी कोशिश की। कोर्ट ने गुप्ता की जमानत याचिका पर फैसला 20 अप्रैल तक के लिए सुरक्षित रख लिया। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Not only Mallya and Neither recent 36 absconding businessmen

More News From national

IPL 2019 News Update
free stats