image

कपूरथलाः पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की ओर से पंजाब सरकार की ओर से1 साल में 150 वादे पूरे करने को ले कर दिए गए बयान पर कांग्रेस के विधायकों ने मुख्यमंत्री का समर्थन करना शुरू कर दिया है इसी कड़ी के तहत सुल्तानपुर लोधी से कांग्रेस के विधायक नवतेज चीमा ने कहा है कि सरकार ने पहले वर्ष में डेढ़ सौ वायदे पूरे कर दिए हैं जिनमें नशे को खत्म करना VIP कल्चर को खत्म करना भ्रष्टाचार को खत्म करना नौजवानों को रोजगार देना किसानों के कर्जे माफ करना जैसे बड़े वादे शामिल है उन्होंने कहा कि सरकार आने वाले समय में भी इसी तरह काम करती रहेगी और चुनाव मेनिफेस्टो का हर वादा पूरा करेगी।

पंजाब सरकार की ओर से किसान कर्ज माफी को लेकर इस महीने में किए जा रहे हैं राज्य स्तरीय समागम पर बोलते हुए कांग्रेस विधायक नवतेज चीमा ने इसे सरकार का सरात्मक कदम बताया और कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह किसान हितेषी हैं और कर्जा माफी पर वह किसी तरह की कोई सियासत नहीं करना चाहते।

पंजाब सरकार पर कई हजार करोड़ का कर्ज होने पर वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल द्वारा भारत सरकार से बातचीत होने का बयान आने पर नवतेज सिंह चीमा ने कहा कि केंद्र सरकार को जल्द से जल्द पंजाब को कर्ज पर राहत देनी चाहिए उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के सर्व पक्षीय विकास की बात करते हैं तो उन्हें जल्द ही पंजाब के हालातों को देखते हुए कर्जे में कुछ राहत देनी चाहिए उन्होंने यहां तक कहा कि जब कोई देश का प्रधानमंत्री बनता है तो वह पूरे देश का प्रधानमंत्री होता है इसलिए राजनीति को छोड़कर सभी राज्यों के सर्वपक्षीय विकास के लिए सरकार को काम करना चाहिए।

नवतेज सिंह चीमा ने पंजाब के कैबिनेट मंत्री ब्रह्म महिंद्रा के उस बयान का भी समर्थन किया जिसमें उन्होंने पुरानी सरकार में चल रहे संगत दर्शनों को फजूलखर्ची बताया था नवतेज सिंह चीमा ने कहा कि यह संगत दर्शन नहीं थे बल्कि अकाली दर्शन थे और पंजाब सरकार में अकाली-भाजपा से संबंधित पंचों सरपंचों को बेहिसाब ग्रांटे दी गई जो की विकास कार्यों में ना लग सकी और यह संगत दर्शन सिर्फ आकाली दर्शन बनकर रह गए क्योंकि आकाली दल इन संगत दर्शनों के जरिए ग्रांटों का दुरुपयोग कर सिर्फ और सिर्फ सत्ता में वापसी करना चाहती थी।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: navtej cheema satetment on punjab government

More News From punjab

Next Stories
image

free stats