image

अमृतसर: पंजाब के लोकल बॉडी मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू और अमृतसर के सांसद गुरजीत सिंह औजला के द्वारा एक प्रेस वार्ता की गई जिसमें उन्होंने 1984 में मारे गए सिखों के दोषियों को चौराहे में खड़े होकर फांसी लगाने की बात कही। दिल्ली से गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी के प्रधान मनजीत सिंह जीके के द्वारा एक कथित वीडियो जगदीश टाइटलर की जारी की गई थी जिसके बाद दिल्ली से लेकर पंजाब तक पूरी सियासत गरमाई हुई है मीडिया से बात करते हुए लोकल बॉडी मिनिस्टर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा है कि 1984 में कोई भी दोषी हो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होनी चाहिए हो सके तो उसको चौराहे पर खड़ा करके फांसी लगा देनी चाहिए। 

वही पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल के द्वारा एक मुहिम शुरू की जा रही है जिसमें वह कांग्रेस के 10 महीने के कार्यकाल का लेखा-जोखा मांगेंगे उस पर बोलते हुए सिद्धू ने कहा कि 10 साल का उनके पास में कोई लेखा-जोखा नहीं है वह किस तरह से हम से 10 महीने का लेखा-जोखा मांग रहे हैं उन्होंने कहा कि पहले ही पंजाब ने उनको हरा कर घर में बैठा दिया है और कॉरपोरेशन के चुनाव है बुरी तरह से हारे हैं इसलिए वह अपनी पार्टी का ध्यान दें कांग्रेस के लिखे जोखे का  ध्यान मत करें वही लुधियाना में नगर निगम चुनाव पर बोलते हुए नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा और उनकी पार्टी पूरे बहुमत से वहां पर जीत हासिल करेगी और जो इल्जाम आम आदमी पार्टी के नेता सिमरनजीत सिंह बैंस लगा रहे हैं उनका हक बनता है

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: navjot singh sidhu statement on 1984 riots

More News From punjab

Next Stories
image

free stats