image

ह्यूस्टन : अमरीकी अंतरिक्ष एजैंसी नासा अपने चंद्रमा ऑर्बटिर द्वारा चांद के उस हिस्से की खींची गई तस्वीरों का वेिषण, प्रमाणन एवं समीक्षा कर रहा है जहां भारत के चंद्रयान-2 मिशन ने अपने विक्रम मॉड्यूल की सॉफ्ट लैंडिंग कराने का प्रयास किया था। नासा के लूनर रिकॉनिसंस ऑर्बटिर (एलआरओ) अंतरिक्ष यान ने चंद्रमा के अनछुए दक्षिणी ध्रुव के पास, वहां से गुजरने के दौरान कई तस्वीरें ली जहां से विक्रम ने उतरने का प्रयास किया था। एलआरओ के डिप्टी प्रोजेक्ट साइंटिस्ट जॉन कैलर ने नासा का बयान साझा किया जिसमें इस बात की पुष्टि की गई कि ऑर्बटिर के कैमरे ने तस्वीरें ली हैं। उस वक्त चंद्रमा पर शाम का समय था जब ऑर्बटिर वहां से गुजरा था जिसका मतलब है कि इलाके का ज्यादातर हिस्सा बिंब में कैद हुआ होगा। 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: NASA is analyzing pictures of Chandrayaan-2's landing location

More News From national

Next Stories
image

free stats