image

कोई व्यक्ति एक वर्ष में ढाई लाख डॉलर तक विदेश भेज सकता है

मुंबई : भारतीय रिजर्व बैंक ने देश से बाहर धन भेजने की उदारीकृत प्रेषण योजना (एल.आर.एस.) की जानकारी देने के नियमों को और कड़ा कर दिया है। इस योजना के तहत कोई व्यक्ति एक वर्ष में ढाई लाख डॉलर तक विदेश भेज सकता है। मौजूदा समय में धन भेजने वाले (प्रेषक) द्वारा की गई घोषणा के आधार पर बैंक योजना के तहत लेनदेन की अनुमति देते हैं। इस सीमा के पालन की निगरानी केवल प्रेषक द्वारा की गई घोषणा तक ही सीमित है। इसकी स्वतंत्र रूप से कोई पुष्टि नहीं की जाती। इसके बारे में सूचना का कोई विश्वसनीय स्रोत भी नहीं होता है। टिप्पणियां रिजर्व बैंक ने एक अधिसूचना में कहा कि धन भेजने पर निगरानी को बेहतर करने और एल.आर.एस. सीमाओं के अनुपालन को सुनिश्चित करने के लिए यह निर्णय किया गया कि इस योजना के तहत धन भेजने वालों के लेनदेनों की जानकारी संबंधित प्राधिकृत डीलर बैंकों से रोजाना मंगाने की व्यवस्था को अमल में लाया जाए।यह जानकारी इस तरह के लेनदेन करने वाले अन्य बैंकों को भी सुलभ हो। अब बैंकों को रोजाना इस तरह के लेनदेन की सूचना अपलोड करनी होगी।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: money is not difficult to send money abroad rbi rule

More News From jammu-kashmir

Next Stories
image

free stats