image

लखनऊः उत्तर प्रदेश पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने भारतीय सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगार नोैजवानों को ठगने वाले गिरोह के दो सदस्यों को आगरा से गिरफ्तार किया है।वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसटीएफ) अभिषेक सिंह ने मंगलवार को यहां बताया कि पिछले कुछ समय से सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर बेरोजगार नौजवानो से वसूली करने वाले माफिया गिरोह के सक्रिय होने की सूचनायें प्राप्त हो रही थी। 

Read More  दाऊद के करीबी को लाया गया भारत, अब इसकी बारी

उन्होने बताया कि एसटीएफ को सूचना मिली थी कि आगरा में युवको को सेना में भर्ती के नाम पर ठगने वाला गिरोह सक्रीय है। टीम ने सोमवार को आगरा केन्टोनमेन्ट क्षेत्र स्थित आर्मी रिकू्रटमेन्ट ऑफिस के सामने कम्पनी गार्डन के पास सदर बाजार से इस भर्ती माफिया गिरोह के दो सक्रिय सदस्यों को गिरफ्तार किया गया। 

Read More  केंन्द्र सरकार के दावे बेअसर: बीते साल PAK ने इतनी बार तोड़ा सीजफायर

सिंह ने बताया कि गिरफ्तार बदमाशों ने अपना नाम अलीगढ़ के घाधौली निवासी अतुल कुमार और खेडिया खुर्द निवासी हरेद्र सिंह बताया है। गिरफ्तार किये गये आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वे पिछले तीन वर्षो से भारतीय सेना में भर्ती कराये जाने के नाम पर छोटे शहरो के बेरोजगार नौजवानो को अपने जाल में फंसाकर उनको भर्ती कराये जाने का झांसा देकर उनसे पैसे ठगते थे। आर्मी भर्ती में आवश्यक तथा निर्धारित दौड़ में पास अभ्यर्थियों से मेडीकल तथा लिखित परीक्षा में पास कराने के एवज में दस हजार रुपये पेशगी लेते थे।

Read More  एयर इंडिया ने सिखों को दिया नए साल पर बड़ा तोहफा

उसके बाद शैक्षिक प्रमाण पत्रों की छायाप्रतियॉ प्राप्त कर लेते थे। गारण्टी के तौर पर एक मूल शैक्षिक दस्तावेज रख लेते थे। जब अभ्यर्थी सफल हो जाता है तब तय रकम तीन लाख रुपये प्रति अभ्यर्थी लेकर गारण्टी के तौर पर रखे मूल शैक्षिक दस्तावेज को वापस कर देते थे। आरोपियों ने बताया कि पॉचों अभ्यर्थियो से उन्हें पेशगी के तौर पर 50,000/- की धनराशि प्राप्त हुयी है। पूर्व की भर्तियो में हम लोगो ने इसी तरह से लाखों रुपये कमाये थे। उन्होंने बताया कि उनके पास से दो अदद आधार कार्ड, 50,570 रुपये नकद, एक वोटर आई.डी, तीन मोबाइल फोन बरामद किये है। मामले की छानबीन की जा रही है।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: loot on the name of job in army in Uttar Pardesh

More News From national

Next Stories
image

free stats