image

नैनीतालः नागालैंड के जखमा में नक्सली हमले में शहीद जवान योगेश परगाईं का पार्थिव शरीर शनिवार को हल्द्वानी स्थित उनके घर पहुंचा। शहीद की तिरंगे लिपटे बेटे के शव को देखकर मां सुधबुध खो बैठी। इसके बाद चित्रशिला घाट पर सैन्य सम्मान के साथ शहीद योगेश को अंतिम विदाई दी गयी।

योगेश की शव यात्रा में हजारों लोग शामिल थे। लोगों में नक्सलियों के खिलाफ आक्रोश देखा गया। चार कुमाऊं रेजीमेंट के जवान योगेश नगालैंड में तैनात थे। गत बुधवार को नक्सलियों के हमले में सीने में उन्हें गोली लगी थी। शनिवार सुबह योगेश का पार्थिव शरीर बिठौरिया आवास पर लाया गया। योगेश की मां अपने कलेजे के टुकड़े को तिरंगे में लिपटे देख बेहोश हो गयी। 

इस दौरान मां बेटे को पुकारती रही। योगेश की भाभी व दो भाइयों का भी रो रो कर बुरा हाल था। बाद में पार्थिव शरीर को चित्रशिला घाट ले जाया गया जहां सैन्य सम्मान के साथ हजारों नम आंखों ने शहीद को अंतिम विदाई दी। हल्द्वानी के इस बेटे की देश के लिये कुर्बानी पर लोग गौरवान्वित भी महसूस कर रहे थे।

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: last farewell to martyr yogesh in naxal attack

More News From national

Next Stories
image

Auto Expo Amritsar 2019
Auto Expo Amritsar 2019
free stats