image

नई दिल्लीः सीएम केजरीवाल के खिलाफ दिल्ली हाईकोर्ट में कपिल मिश्रा ने याचिका दायर की है. कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि सीएम अरविंद केजरीवाल सदन में ज्यादातार अनुपस्थित रहते हैं, जिसके चलते कपिल मिश्रा ने सीएम केजरीवाल के खिलाफ यह एक्शन उठाया है। आपको बता दें कि कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी के बागी नेता हैं, उन्हें पार्टी से पिछले साल ही बाहर निकाल दिया गया था। 

PIL filed in Delhi High Court -

1. Delhi CMKejriwal should be directed to attend Assembly

2. 75% attendance should be mandatory for all MLAs

3. "No Work - No Pay" for MLAs, Ministers & Chief Minister with less than 50%@AshwiniBJP @AdvAshwaniDubey @ippatel

— Kapil Mishra (@KapilMishra_IND) June 11, 2018

दिल्ली हाईकोर्ट ने कपिल मिश्रा की याचिका को स्वीकार कर लिया है और इस मामले पर मंगलवार को सुनवाई होने है।  कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया है कि विधानसभा के विशेष सत्र में एक दिन भी केजरीवाल नहीं आए हैं। कपिल ने याचिका में सदन में गैरहज़िर रहने पर मुख्यमंत्री की सैलरी काटने की मांग की है। उन्होंने कहा कि सदन की पिछले एक साल की 27 बैठकों में से मुख्यमंत्री केजरीवाल सिर्फ 5 बैठकों में मौजूद रहे।

कपिल ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ज्यादातर सदन में केवल अपना भाषण देने ही आते हैं, प्रश्नकाल में साढ़े तीन साल में एक बार भी मुख्यमंत्री उपस्थित नहीं रहे। उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने सदन में आज तक एक भी विधायक के सवाल का स्वयं जवाब नहीं दिया। जल मंत्री होने के बावजूद केजरीवाल ने सदन में पानी पर एक भी सवाल का जवाब नहीं दिया। पूर्ण राज्य के विशेष सत्र में एक दिन भी केजरीवाल सदन में नहीं आए। कपिल का दावा है कि देश के इतिहास में पहली बार किसी मुख्यमंत्री के ख़िलाफ ऐसी याचिका दायर की गई है।


 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: kapil mishra filled pil against arvind kejriwal

More News From national

Next Stories
image

free stats