image

नई दिल्ली : उपभोक्ताओं पर बढ़ता डिजिटल प्रभाव तथा सीमापार ई - कॉमर्स की वृद्धि से विभिन्न श्रेणियों में घरेलू व्यावसायियों के समक्ष 2022 तक 39 अरब डॉलर के निर्यात अवसर पैदा होंगे। गूगल - केपीएमजी की एक रिपोर्ट में आज यह बात कही गयी। 
 रिपोर्ट में कहा गया कि यात्रा, मीडिया एवं मनोरंजन, सॉफ्टवेयर सेवा, उपभोक्ता ब्रांड और रीयल ए स्टेट अधिक अंतरराष्ट्रीय संभावनाओं वाले मुख्य क्षेत्र होंगे। 
 रिपोर्ट के अनुसार भारतीय निर्यातकों के विस्तार के लिए एशिया - प्रशांत सबसे आकर्षक क्षेत्र होगा। इसके साथ ही चीन , मलेशिया और इंडोनेशिया भी मुख्य बाजार होंगे। 
 उसने कहा कि ब्रिटेन और अमेरिका जैसे डिजिटल परिपक्व बाजार में अन्य आकर्षक क्षेत्र होंगे जिनका लाभ उठाया जा सकेगा। 
 गूगल इंडिया की निदेशर्क विपणन समाधानी शालिनी गिरीश ने कहा , ‘‘बढ़ता वैश्विक संपर्क उद्यमियों के लिए अंतरराष्ट्रीय विस्तार के अवसर मुहैया करा रहा है.  इस वृद्धि की अगुवाई उभरती अर्थव्यवस्थाएं कर रही हैं और मोबाइल फोन की बढ़ती पहुंच इसे गति दे रही है.इस गठजोड़ से सीमा पार मोबाइल ई - कॉमर्स काफी तेजी से बढ़ रहा है. ’’  
 

DainikSavera APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS

Web Title: Increasing digitization will lead to $ 39 billion export opportunities by 2022

Next Stories
image

free stats